शहर को कचरा मुक्त बनाने हेतु जिला प्रशासन ने आयोजित की कार्यशाला

Premdaan | ETV Rajasthan
Updated: August 12, 2017, 7:08 PM IST
शहर को कचरा मुक्त बनाने हेतु जिला प्रशासन ने आयोजित की कार्यशाला
सी. श्रीनिवासन, इंडियन ग्रीन सर्विस के परियोजना निदेशक
Premdaan | ETV Rajasthan
Updated: August 12, 2017, 7:08 PM IST
इंडियन ग्रीन सर्विस के परियोजना निदेशक सी. श्रीनिवासन ने शनिवार को बाड़मेर जिला मुख्यालय में ठोस एवं तरल संसाधन प्रबंधन पर आयोजित कार्यशाला में पहुंचे. यह कार्यशाला जिला प्रशासन, नगर परिषद एवं राजवेस्ट पावर लिमिटेड की ओर से आयोजित की गई थी.

कार्यशाला को संबोधित करते हुए सी. श्रीनिवासन ने कहा कि कचरा समस्या नहीं है बल्कि इसका सही प्रबंधन किए जाने की जरुरत है. ठोस एवं तरल संसाधन प्रबंधन के जरिए शहर की तस्वीर बदलने के साथ इसके जरिए आर्थिक बचत भी की जा सकती है. इसके लिए जन प्रतिनिधियों के साथ आम लोगों को भी सहयोग करना होगा. इस अवसर पर सी. श्रीनिवासन ने कहा कि कचरे का सही इस्तेमाल करके इसकी वजह से उत्पन्न होने वाली समस्याओं का समाधान किया जा सकता है.

उन्होंने कहा कि पहले मानव संसाधन एवं मशीनरी के उपयोग के बावजूद सही तरीके से सफाई व्यवस्था नहीं हो पाती थी. लेकिन कुछ समय बाद अंबिकापुर की तस्वीर बदल गई और पूरे देश में सफाई व्यवस्था में वह 15वें स्थान पर पहूंच गया. उन्होंने फिल्म प्रदर्शन एवं प्रायोगिक विधियां के जरिए कचरा प्रबंधन की जानकारी दी. इस दौरान जिला कलेक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन की कामयाबी के लिए प्रत्येक व्यक्ति का जुड़ाव जरुरी है.

उन्होंने कहा कि शहर को साफ-सुथरा एवं सुव्यवस्थित बनाने के लिए व्यवस्थित कचरा प्रबंधन बेहद जरूरी है. उन्होंने जन प्रतिनिधियों, स्वयंसेवी संगठनों के प्रतिनिधि, गणमान्य नागरिकों से अनुरोध किया कि वे यह तय करें कि बाड़मेर को किस रूप में देखना चाहते हैं.
First published: August 12, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर