Jodhpur: आज से खुल जाएंगी अदालतें, 8 तक फिजीकली कोर्ट जा सकेंगे वकील-पक्षकार

राजस्थान की अदालतों में आज से काम-काज शुरू हो जाएगा. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

राजस्थान की अदालतों में आज से काम-काज शुरू हो जाएगा. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

25 दिसंबर से 1 जनवरी तक अवकाश के बाद आज से अदालत (Rajasthan Court) में शुरू होगा सामान्य काम-काज. आदेश के मुताबिक 2 जनवरी से 8 जनवरी तक अदालतों में वकील, पक्षकार व अन्य फिजिकली उपस्थित हो सकेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 2, 2021, 9:24 AM IST
  • Share this:

जोधपुर. जोधपुर सहित प्रदेश की सभी अधीनस्थ अदालतें शीतकालीन अवकाश के बाद शनिवार से खुलेंगी. गत 25 दिसंबर से 1 जनवरी तक अधीनस्थ अदालतों में अवकाश था. शनिवार को सभी अधीनस्थ अदालतें खुल जाएंगी और विभिन्न मामलों की सुनवाई होगी. गत 19 दिसंबर को जारी परिपत्र के अनुसार 2 जनवरी से 8 जनवरी तक अदालतों में वकील, पक्षकार व अन्य फिजिकली उपस्थित हो सकेंगे.

जहां आरोपी न्यायिक अभिरक्षा में हैं या प्रकरण के समयबद्ध निस्तारण के आदेश दिए गए हैं, उन सभी मामलों में साक्ष्यों की रिकॉर्डिंग हो सकेगी. साथ ही 10 साल से पुराने मामलों में भी साक्ष्य रिकॉर्ड होगी. जिन मामलों में पक्षकार इच्छुक हैं, उनमें भी साक्ष्य रिकॉर्ड होगी. हालांकि इसके अभाव में 8 जनवरी तक कोई अदालत विपरीत आदेश पारित नहीं कर सकेगी.

जस्टिस के सचिव हुए थे संक्रमित

आपको बता दें कि कुछ महीनों पहले जुलाई में राजस्थान हाईकोर्ट (Rajasthan Highcourt) के एक जस्टिस (Justice) के निजी सचिव कोरोना संक्रमित (coronavirus infected) हो गए थे. इसके बाद राजस्थान हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार जनरल ने हाईकोर्ट सीजे इंद्रजीत महंती के आदेश पर कोर्ट के सभी कार्यों को तत्काल रोके जाने और कोर्ट परिसर के सैनेटाइजेशन के निर्देश दिए गए थे. साथ ही संक्रमित निजी सचिव के डायरेक्ट संपर्क में आने वाले सभी लोगों के कोरोना जांच के लिए सैम्पल लिए गए थे. हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार जनरल ने आदेश में कहा था कि राजस्थान हाईकोर्ट मुख्य पीठ के सभी कार्यों को तुरंत प्रभाव से 9 जुलाई 2020 के दिन सस्पेंड किया जाता है.
मच गया था हड़कंप

हाईकोर्ट न्यायाधीश के निजी सचिव को कोरोना वायरस संक्रमित पाए जाने के बाद चिकित्सा विभाग की टीम को हाईकोर्ट बुलाया गया था. हाईकोर्ट में कार्यरत कर्मचारी व न्यायाधीशों की कोरोना संक्रमण की जांच की गई. इसके अलावा नगर निगम के दमकलों के माध्यम से राजस्थान हाईकोर्ट के नए परिसर का सोडियम हाइपोक्लोराइड से सैनिटाइजेशन किया गया. न्यायाधीश के निजी सचिव के पॉजिटिव पाए जाने के तुरंत बाद सभी अधिवक्ताओं को हाईकोर्ट परिसर से बाहर जाने के आदेश दे दिए गए थे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज