Jodhpur: युवक ने सगाई में खो दिया था माता-पिता को, अब लॉकडाउन में मंगेतर ने थामा हाथ
Jodhpur News in Hindi

Jodhpur: युवक ने सगाई में खो दिया था माता-पिता को, अब लॉकडाउन में मंगेतर ने थामा हाथ
माता-पिता की शादी की सालगिरह पर की शादी.

कभी कभी जिंदगी के सपने पूरे होते होते अधूरे रह जाते हैं. जोधपुर (Jodhpur) के एक युवक के साथ भी ऐसा ही कुछ हुआ है. खुशी की घड़ी में गमों का ऐसा पहाड़ टूट कि वह खुद अंदर से टूट गया. खुद की सगाई में माता-पिता और भाई को खो चुके इस युवक के जीवन में 2 दिन पहले फिर बहार आई है.

  • Share this:
जोधपुर. कभी कभी जिंदगी के सपने पूरे होते होते अधूरे रह जाते हैं. जोधपुर (Jodhpur) के एक युवक के साथ भी ऐसा ही कुछ हुआ है. खुशी की घड़ी में गमों का ऐसा पहाड़ टूट कि वह खुद अंदर से टूट गया. खुद की सगाई में माता-पिता और भाई को खो चुके इस युवक के जीवन में 2 दिन पहले फिर बहार आई है. लॉकडाउन (Lockdown) के बीच युवक की मंगेतर ने 4 परिजनों के समक्ष उसका हाथ थाम लिया. बिना बैंड बाजे और बाराती के यह शादी समारोह संपन्न हुआ.

सड़क दुघर्टना में मारे गए थे माता-पिता
जोधपुर के बनाड़ इलाके में रहने वाले अक्षय को कुदरत ने करीब छह माह पहले जिंदगीभर ना भरने वाला जख्म दिया था. गत वर्ष 17 अक्टूबर को अक्षय की झुंझुनूं में पूजा कंवर के साथ सगाई हुई थी. सगाई के बाद अक्षय उसी दिन जोधपुर आ गया. लेकिन माता पिता और भाई वहां रुक गए थे. वे अगले दिन अपनी गाड़ी से जोधपुर के लिए रवाना हुए, लेकिन रास्ते में हुए सड़क हादसे में अकाल मौत के शिकार हो गए. अक्षय का भरा पूरा परिवार बिखर गया और वह तन्हा हो गया.

माता-पिता की शादी की सालगिरह पर की शादी
युवक को गमों के इस अंधेरे से उबारने के लिए जब दुल्हन के परिजनों ने शादी के लिए कहा तो वह तैयार हो गया. लेकिन उसने शादी के लिए तारीख ऐसी चुनी के उससे उसके माता-पिता की यादें ताजा रहे. इसके लिए अक्षय ने लॉकडाउन के बीच 3 मई को फेरे लिए. 3 मई को अक्षय के माता-पिता की सालगिरह है. 3 मई को अक्षय अपने चाचा और ड्राइवर को लेकर शादी करने पहुंचा. वहां बेहद सादगी से चुनिंदा लोगों के समक्ष सात फेरे और शादी की अन्य रस्में पूरी कर दुल्हन को ले आया. दुल्हन पूजा ने कहा की पति के एकांत को देखकर इतनी जल्दी सात फेरे लिए हैं. ताकि अक्षय गमों के अंधेरों से बाहर आ सके और जिंदगी को नए नजरिये देखने की कोशिश करे.



पंचतत्व में विलीन हुए शहीद कर्नल आशुतोष, पत्‍नी और भाई ने दी मुखाग्नि

आज नई व्यवस्थाओं के साथ खुली शराब की दुकानें, कल बिकी थी 60 करोड़ की मदिरा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज