Jodhpur: तिहरे हत्याकांड से सनसनी के बाद अब फैलने लगा तनाव, ग्रामीणों ने शव लेने से किया इनकार
Jodhpur News in Hindi

Jodhpur: तिहरे हत्याकांड से सनसनी के बाद अब फैलने लगा तनाव, ग्रामीणों ने शव लेने से किया इनकार
बिलाड़ा थाना अधिकारी मनीष देव ने प्रदर्शनकारियों को समझाइश करने का प्रयास किया, लेकिन ग्रामीण अपनी मांग पर अड़े हुए हैं.

जोधपुर जिले के बिलाड़ा थाना इलाके में मंगलवार को हुए तिहरे हत्याकांड (Triple murder) के बाद अब धीरे-धीरे तनाव (Tension) फैलता जा रहा है. हत्याकांड से आक्रोशित मृतकों के परिजनों और ग्रामीणों ने शव लेने से इनकार कर दिया है.

  • Share this:
जोधपुर. राजस्‍थान के जोधपुर जिले के बिलाड़ा थाना इलाके में मंगलवार को हुए तिहरे हत्याकांड (Triple murder) के बाद अब धीरे-धीरे तनाव (Tension) फैलता जा रहा है. हत्याकांड से आक्रोशित मृतकों के परिजनों और ग्रामीणों ने शव लेने से इनकार कर दिया है. तीनों मृतकों के शव स्थानीय अस्पताल की मोर्चरी में रखे हुए हैं. पुलिस-प्रशासन के अधिकारी ग्रामीणों से समझाइश कर रहे हैं, लेकिन अभी तक गतिरोध टूट नहीं पाया है. हत्याकांड के बाद फैल रहे तनाव को देखते हुए पुलिस पूरी सतर्कता बरत रही है.

वारदात का पता लगते ही सनसनी फैल गई थी
जानकारी के अनुसार बिलाड़ा थाना इलाके के जैतीवास गांव में मंगलवार को पति-पत्नी और उनके पांच वर्षीय बेटे की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई थी. हत्याकांड का पता लगते ही इलाके में सनसनी फैल गई थी. वहां लोगों का जमावड़ा लग गया. सूचना पर बिलाड़ा थानाधिकारी मनीष देव पुलिस जाब्ते के साथ मौके पर पहुंचे. पुलिस ने शवों को अपने कब्जे में लेकर उनको स्थानीय अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया.

Rajasthan: 18 हजार के पार हुआ कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा, अब तक 413 की मौत
धारदार हथियार से दिया गया है वारदात को अंजाम


बिलाड़ा थानाधिकारी मनीष देव ने बताया कि मृतक का परिवार चौकीदार का काम करता था. इसके साथ ही लकड़ी काटकर उसका कोयला बनाने का काम भी करता था. मंगलवार को इस परिवार के मुखिया जवरीलाल उसकी पत्नी तोलकी देवी और 5 वर्षीय बेटे विक्रम के शव झोंपड़े में पड़े मिले थे. वहीं एक बच्चा घायल था. घायल बच्चे को ग्रामीणों के सहयोग से बिलाडा ट्रोमा सेंटर भेजा गया. थानाधिकारी ने बताया हत्याकांड को अंजाम किसी धारदार हथियार से दिया गया है.

Weather Updates: उदयपुर में मानसून की पहली बारिश, रातभर जमकर बरसे बादल, खिल उठा तन-मन

हत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है
बुधवार को बिलाड़ा अस्पताल की मोर्चरी के बाहर बावरी और चौकीदार समाज के लोग बड़ी संख्या में एकत्रित हो गए. उन्होंने इस घटना में जिंदा बचे जवरीलाल के 3 बच्चों को आर्थिक सहायता देने और आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग करते हुए शव लेने से इनकार कर दिया. बिलाड़ा थाना अधिकारी मनीष देव ने प्रदर्शनकारियों को समझाइश करने का प्रयास किया, लेकिन ग्रामीण अपनी मांग पर अड़े हुए हैं. गतिरोध कायम है. थानाधिकारी का कहना है कि पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है. अभी तक हत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है और ना ही आरोपियों का कोई सुराग लग पाया है.

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज