Home /News /rajasthan /

umaid club case jodhpur high court issues notice matter of making wrong video of minor girl in washroom rjsr

उम्मेद क्लब केस: हाईकोर्ट ने जारी किये नोटिस, वॉशरूम में नाबालिग का गलत वीडियो बनाने का आरोप

जोधपुर का उम्मेद क्लब देश के प्रतिष्ठित क्लबों में शामिल है.

जोधपुर का उम्मेद क्लब देश के प्रतिष्ठित क्लबों में शामिल है.

उम्मेद क्लब केस में पीड़िता पहुंची जोधपुर हाईकोर्ट: सनसिटी जोधपुर के प्रसिद्ध उम्मेद क्लब (Umaid Club Case) में पिछले दिनों एक नाबालिग लड़की का वॉशरूम में गलत वीडियो बनाये जाने के कथित मामले में पीड़िता ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. पीड़िता ने मामले की सीबीआई जांच (CBI probe) की मांग की है. हाईकोर्ट ने पीड़िता की याचिका पर सुनवाई करने के बाद इस मामले में संबंधित पक्षकारों को नोटिस जारी किये हैं.

अधिक पढ़ें ...

जोधपुर. सनसिटी जोधपुर के प्रसिद्ध उम्मेद क्लब (Umaid Club Case) में स्थित स्विमिंग पूल के पास बने वॉशरूम में नाबालिग लड़की का गलत वीडियो बनाने के मामले में पुलिस की जांच से असंतुष्ट पीड़ित पक्ष ने मामले में हाईकोर्ट में याचिका पेश कर इसकी सीबीआई जांच (CBI probe) करवाने की मांग की है. इस याचिका पर बुधवार को सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने पुलिस और सीबीआई सहित याचिका के सभी अप्रार्थियों को नोटिस जारी किया है. इसके साथ ही कोर्ट ने मामले में आईओ से केस डायरी और तथ्यात्मक रिपोर्ट पेश करने के भी आदेश दिए हैं.

जानकारी के अनुसार सूर्यनगरी जोधपुर के उम्मेद क्लब में गत 24 अप्रेल को 17 वर्षीय युवती स्विमिंग करने के बाद वॉशरूम में शॉवर लेने के लिये गई थी. आरोप है कि इस दौरान आकाश चोपड़ा नाम के युवक ने अपने अपने मोबाइल से इसका वीडियो बना लिया था. इसका पता चलने पर पीड़ित पक्ष ने उदय मंदिर पुलिस थाने में मुख्य आरोपी आकाश चोपड़ा सहित उम्मेद क्लब के अध्यक्ष हंसराज बाहेती और दीपक गहलोत, दीपक भाटी, अर्पित मोदी एवं मुख्य आरोपी के ससुर कमलेश तातेड़ के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था.

आरोपियों को लाभ पहुंचाने की मंशा पर हुई बहस
मामले में पुलिस की जांच से सतुंष्ट नहीं होने पर पीड़ित पक्ष ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. पीड़ित पक्ष की मांग है कि मामले की सीबीआई से जांच करवाई जाये. पीड़ित की याचिका पर बुधवार को जस्टिस मनोज कुमार गर्ग की कोर्ट में सुनवाई हुई. पीड़िता की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता रवि भंसाली, अधिवक्ता विपुल सिंघवी और शुभम मोदी ने पैरवी करते हुए जांच अधिकारी द्वारा आरोपियों को लाभ पहुंचाने मंशा के विषय पर बहस की.

देश के प्रतिष्ठित क्लबों में शामिल है उम्मेद क्लब
इसके साथ ही इस प्रकरण की जांच सीबीआई से करवाने की गुहार की गई. सुनवाई के बाद जस्टिस मनोज कुमार गर्ग ने केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो और सभी पक्षकारों को नोटिस जारी कर जांच अधिकारी से केस डायरी तथा तथ्यात्मक रिपोर्ट तलब की है. उल्लेखनीय है कि उम्मेद क्लब जोधपुर ही नहीं बल्कि देश के प्रतिष्ठित क्लबों में शामिल है. इस क्लब से विभिन्न क्षेत्रों की कई बड़ी-बड़ी सेलिब्रिटिज जुड़ी हुई हैं.

Tags: Crime News, Jodhpur High Court, Jodhpur News, Rajasthan news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर