होम /न्यूज /राजस्थान /

Rajasthan: सगे भाइयों ने भाई को उतारा मौत के घाट, पुलिस ने 24 घंटे में सुलझाई हत्या की गुत्थी, जानें वजह

Rajasthan: सगे भाइयों ने भाई को उतारा मौत के घाट, पुलिस ने 24 घंटे में सुलझाई हत्या की गुत्थी, जानें वजह

मृतक के पुत्र अमृत लाल ने अज्ञात बदमाशों द्वारा उसके पिता रामधन से खेत में मारपीट कर हत्या की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी.

मृतक के पुत्र अमृत लाल ने अज्ञात बदमाशों द्वारा उसके पिता रामधन से खेत में मारपीट कर हत्या की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी.

करौली जिले में 12 अगस्त को हुई एक बुजुर्ग की हत्या का खुलासा पुलिस ने कर दिया है. बुजुर्ग की हत्या के आरोप में 2 सगे भाइयों को गिरफ्तार किया है. वहीं 1 भाई अभी भी फरार चल रहा है. मृतक के पुत्र अमृत लाल ने अज्ञात बदमाशों द्वारा उसके पिता रामधन से खेत में मारपीट कर हत्या की रिपोर्ट की. जिसकी जांच करते हुए पुलिस ने महज 24 घंटों में आरोपियों का खुलासा कर दिया है. आरोपियों ने हत्या करना स्वीकार कर लिया है.

अधिक पढ़ें ...

करौली. राजस्थान के करौली जिले में हुए अंधेकत्ल का पुलिस ने महज 24 घंटे में पर्दाफाश कर दिया है. बीते 12 अगस्त को पुलिस को मासलपुर थाना क्षेत्र में एक बुजुर्ग की हत्या की जानकारी मिली थी. जिसको लेकर पुलिस ने जांच शुरू की और हत्या के आरोप में 2 सगे भाइयों को गिरफ्तार कर लिया है. वहीं 1 भाई फरार चल रहा है. आरोपियों ने भूमि विवाद को लेकर भाई की हत्या की थी. घटना का खुलासा करने व आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर पुलिस-प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन करने वाले मृतक के भाई ही हत्यारे निकले है. मासलपुर थाना अधिकारी पुरुषोत्तम ने बताया कि 12 अगस्त को पुलिस को सूचना मिली कि रामधन प्रजापत पुत्र सोमवारया प्रजापत निवासी चैनपुर उसके बाजरे के खेत में घायल अवस्था में पड़ा है. सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायल को इलाज के लिए करौली हॉस्पिटल पहुंचाया. घायल बयान देने की स्थिति में नहीं था.

अस्पताल ले जाते समय हुई थी मौत

करौली से जयपुर रैफर करने पर जयपुर ले जाते समय रास्ते में घायल रामधन प्रजापत की मृत्यु हो गई. मामले में मृतक के पुत्र अमृत लाल ने अज्ञात बदमाशों द्वारा उसके पिता रामधन से खेत में मारपीट कर हत्या की रिपोर्ट दर्ज करवाई. मामले में एसपी नारायण टोगस ने थानाधिकारी पुरूषोत्तम के नेतृत्व में टीम गठित कर जांच के निर्देश दिए. थानाधिकारी ने इलेक्ट्रानिक साक्ष्यों के आधार पर संदिग्ध आरोपी मृतक के भाई बीरबल पुत्र सोमवारया उम्र 55 साल व लज्जाराम पुत्र सोमवारया उम्र 45 साल निवासी चैनपुर से सख्ती से पूछताछ की तो आरोपी टूट गए.

आरोपियों ने हत्या करना किया कबूल

जमीनी विवाद को लेकर अपने भाई रामधन प्रजापत की हत्या करना कबूल कर लिया. आरोपी बीरबल व लज्जाराम को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. एक आरोपी मन्तू पुत्र सोमवारया प्रजापत निवासी चैनपुर मामले की भनक लगते ही  फरार हो गया है. जिसकी तलाश जारी है. यहां गौरतलब है आरोपियों ने शनिवार को मृतक के पोस्टमार्टम के दौरान ही हॉस्पिटल के बाहर सड़क पर जाम लगाकर धरना प्रदर्शन किया. प्रदर्शन कर मामले का खुलासा करने तथा हत्यारोपियों की गिरफ्तारी की मांग की थी.

Tags: Karauli news, Rajasthan news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर