करौली के बरुला गांव में डकैतों ने नाबालिग को गोली मारी, मौके पर हुई मौत

डकैतों ने 15 वर्षीय बालक को गोली मार दी.
डकैतों ने 15 वर्षीय बालक को गोली मार दी.

राजस्थान में लांगरा थाने के माड़ी भाट बरुला गांव में भैंसों को घेर में छोड़ कर घर लौट रहे 15 वर्षीय बालक ((Fifteen Years Boy) को डकैत (Dacoit) रामवीर ने गोली मार दी. बालक को गोली लगने से मौके पर मौत हो गई.

  • Share this:
करौली. राजस्थान में लांगरा थाने के माड़ी भाट बरुला गांव में भैंसों (Buffallow) को घेर में छोड़ कर घर लौट रहे 15 वर्षीय बालक को डकैत रामवीर (Dacoit Ramveer) ने गोली मार दी. बालक को गोली लगने से मौके पर मौत हो गई. इस घटना से क्षेत्र में रोष व्याप्त है. वहीं परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. सूचना पर लांगरा थाना पुलिस व एसपी अनिल बेनीवाल (Sp Anil Beniwal) मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली. पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुटी है.

बालक भैंसों को छोड़कर घर लौट रहा था

मंडरायल के पूर्व प्रधान लखन सिंह ने बताया कि माड़ी भाट बरूला गांव निवासी तेजराम गुर्जर उम्र 15 वर्ष सुबह 8 बजे के लगभग गांव के बाहर घेर में भैंसों को छोड़कर घर लौट रहा था. इसी दौरान मारेका कूँआ पाटी गांव निवासी रामवीर गुर्जर ने कारिस बाबा स्थान के पास तेजराम गुर्जर को गोली मार दी. गोली लगने से बालक की मौके पर ही मौत हो गई. इस घटना के बाद से क्षेत्र में रोष व्याप्त है. फायरिंग की सूचना मिलते ही मौके पर बड़ी संख्या में भीड़ जमा हो गई.



पुलिस डकैतों की तलाश में जुटी
लांगरा थाना प्रभारी दिनेश चंद मीणा मय जाब्ता घटना स्थल पर पहुंचे. वहीं सूचना पर एसपी अनिल कुमार बेनीवाल भी घटनास्थल पर पहुंचे और इस मामले की जानकारी ली. इसके साथ ही परिजनों को ढांढस बंधाया और शीघ्र कार्यवाही का भरोसा दिलाया है. पुलिस टीम गठित कर डकैतों की तलाश में जुटी है.

यह भी पढ़ें: उदयपुर में भी कोरोना वायरस का खौफ, 3 संदिग्ध आइसोलेशन वार्ड में भर्ती

कोरोना वायरस: चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने चीन से आए पर्यटकों की मांगी सूची
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज