लाइव टीवी

हिंडौन सिटी की कई कॉलोनियों में आज पानी सप्लाई नहीं, नागौर में भी जल संकट

News18 Rajasthan
Updated: June 26, 2019, 11:25 AM IST
हिंडौन सिटी की कई कॉलोनियों में आज पानी सप्लाई नहीं, नागौर में भी जल संकट
प्रतिकात्मक तस्वीर.

राजस्थान के हिंडौन सिटी शहर में बुधवार को पेयजल आपूर्ति गड़बड़ाई गई. कई कॉलोनियों में पीने का पानी नहीं सप्लाई हुआ तो लोगों परेशान हो गए.

  • Share this:
राजस्थान में भीषण गर्मी के बीच पेयजल संकट गहराने लगा हैं और ऐसे ही हालात बुधवार को करौली जिले के हिंडौन सिटी में नजर आए. यहां शहर में पेयजल आपूर्ति गड़बड़ाई गई. कृष्णा कॉलोनी सहित कई कॉलोनियों ने पेयजल सप्लाई नहीं हुई. नलों में पानी नहीं आने से लोग परेशान है और सुबह से पानी सप्लाई की शिकायतों को लेकर सरकारी दफ्तरों में टेलीफोन की घंटियां बज रही हैं.

शहर में पिछले एक महीने से पानी की नियमित सप्लाई नहीं हो पा रही है. नलों में जब पानी आता भी है तो अपर्याप्त रहता है. लोगों का आरोप है कि पेयजल योजनाओं में करोड़ों रुपए खर्च के बाद भी आमजन को पीन का पानी नहीं मिल पा रहा है.

नागौर में भी पेजयल संकट





उधर, नागौर में भी पेयजल को लेकर संकट की स्थित है. यहां मंगलवार को पहुंचे जलादय अधिकारियों के सामने पेजयल सकंट से परेशान महिलाओं का गुस्सा फूट पड़ा था. नागौर के हनुमान बाग क्षेत्र में गुस्साई महिलाओं ने जलदाय विभाग के एईएन व एक्सईएन को चुनरी ओढा दी.
Loading...

दरअसल, अमृत योजना के तहत पानी का कनेक्शन लेने के लिए जलदाय विभाग ने शिविर लगाया था, जहां पहुंची महिलाओं का गुस्सा फूट पड़ा और अधिकारियों को चुनरी ओढ़ा लगी. महिलाओं के गुस्से के आगे अधिकारियों का जोर नहीं चला.

ये भी पढ़ें- राजस्थान मंडी भाव: 20000 पहुंचा जीरा, धनिया के भाव 8040 रुपए

नगर परिषद के जिम्मे पानी की जिम्मेदारी

नागौर में गर्मी शुरू होते ही पेयजल संकट शुरू हो गया था, जो अब तक बना हुआ है. नागौर में पानी की सप्लाई जल प्रदाय योजना के तहत नगर परिषद के जिम्मे है, लेकिन नगर परिषद के पास अधिकारी नहीं है. जलदाय व नगर परिषद का आपस में तालमेल नहीं है. वहीं कलेक्टर भी दोनों विभागों से कहकर थक चुके हैं.




News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए करौली से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 26, 2019, 11:08 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...