लाइव टीवी

करौली : 2019 में अपराधों की संख्या में 17 प्रतिशत की वृद्धि हुई, 6 हार्डकोर अपराधी पुलिस के हत्थे चढ़े
Karauli News in Hindi

Dharmendra | News18 Rajasthan
Updated: January 2, 2020, 5:59 PM IST
करौली : 2019 में अपराधों की संख्या में 17 प्रतिशत की वृद्धि हुई, 6 हार्डकोर अपराधी पुलिस के हत्थे चढ़े
SP ने कहा कि जुआ-सट्टा, अवैध बजरी खनन को रोकने के लिए कड़ी कार्यवाही करना जिला पुलिस का लक्ष्य होगा.

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि 2020 में संगठित अपराध (Organized crime) एवं सड़क दुर्घटनाओं (Road accidents) में कमी लाना करौली (Karauli) पुलिस का लक्ष्य है.

  • Share this:
करौली. जिले में बीते 3 साल में अपराधों में बड़ी बढ़ोतरी दर्ज हुई है. 2019 में अपराधों की संख्या में 17 प्रतिशत की वृद्धि (Increase in Crime) हुई. 2018 में दर्ज 3895 अभियोग (Case) के मुकाबले 2019 में 4561 मुकदमे दर्ज हुए, जो 2018 के मुकाबले 666 यानी 17 प्रतिशत अधिक है. हालांकि 2019 में बलवा का एक भी प्रकरण दर्ज नहीं हुआ. वहीं नकबजनी, लूट के प्रकरणों में कमी आई है तो एक्साइज, जुआ, आर्म्स एक्ट, एनडीपीएस एक्ट (NDPS Act) के खिलाफ कार्यवाही भी अधिक हुई है.

2019 में 666 अधिक प्रकरण दर्ज हुए

एसपी अनिल कुमार बेनीवाल ने बताया कि 2018 के मुकाबले 2019 में अधिक अभियोग दर्ज हुए हैं. सरकार द्वारा प्रत्येक मुकदमा दर्ज करने के आदेश के चलते 2019 में 666 अधिक प्रकरण दर्ज हुए, जबकि 2017 में 3974 एवं 2018 में 3895 अभियोग दर्ज हुए थे. उन्होंने बताया कि 2018 की तुलना में 2019 में आबकारी अधिनियम के तहत 34 प्रकरण अधिक दर्ज किए गए. इसी प्रकार जुआ-सट्टे के मामले में भी 2018 की तुलना में 2019 में 31 प्रकरण अधिक दर्ज किए गए हैं.

सक्रिय 11 अपराधियों को गिरफ्तार किया गया

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि 2019 में 20 हजार के इनामी राम लखन सहित छह हार्डकोर अपराधियों को गिरफ्तार किया गया. जिले में सर्वाधिक सक्रिय वांछित अपराधियों में से 21 अपराधियों को चिह्नित कर उनमें से 11 को गिरफ्तार किया गया. साथ ही जिले के दो हेड कांस्टेबलों को अच्छे कार्य के लिए गैलंट्री प्रमोशन दिया गया.

बलात्कार, अपहरण, हत्या, चोरी की वारदातों में बढ़ोतरी हुई

इसके साथ ही पॉक्सो एक्ट में 5 दिन में चालान पेश कर राजस्थान ने कीर्तिमान स्थापित किया है. जिले में बलात्कार, अपहरण, हत्या, चोरी की वारदातों में बढ़ोतरी हुई है, जो चिंता का विषय है. इस दौरान पुलिस अधीक्षक ने बताया कि 2020 में संगठित अपराध एवं सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाना उनका लक्ष्य है. साथ ही जिले में नशे, जुआ-सट्टा, अवैध बजरी खनन को रोकने के लिए कड़ी कार्यवाही करना जिला पुलिस का लक्ष्य होगा.ये भी पढ़ें - मासूम से दुष्कर्म व हत्या के आरोपी के खिलाफ पॉक्सो कोर्ट में चार्जशीट दाखिल

ये भी पढ़ें - अस्पताल के गेट पर प्रसव मामले में जांच शुरू, प्रसूता व परिजनों के बयान लिए गए

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए करौली से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 2, 2020, 5:59 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर