• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • Nirbhaya Case: फांसी के बाद दोषी मुकेश का करौली में किया गया अंतिम संस्कार

Nirbhaya Case: फांसी के बाद दोषी मुकेश का करौली में किया गया अंतिम संस्कार

मुकेश समेत चारों दोषियों को शुक्रवार को अलसुबह 5.30 बजे दिल्ली स्थित तिहाड़ जेल में एक साथ फांसी दी गई थी.

निर्भया गैंगरेप केस (Nirbhaya gang rape case) के दोषियों में शामिल रहे राजस्थान के करौली निवासी मुकेश (Mukesh) का शनिवार को भद्रावती नदी किनारे अंतिम संस्कार (Funeral) किया गया.

  • Share this:
करौली. निर्भया गैंगरेप केस (Nirbhaya gang rape case) के दोषियों में शामिल रहे राजस्थान के करौली निवासी मुकेश (Mukesh) का शनिवार को भद्रावती नदी किनारे अंतिम संस्कार (Funeral) किया गया. उसके अंतिम संस्कार में परिजनों सहित कुछ अन्य लोग शामिल रहे. मुकेश और उसके तीन साथियों को दिल्ली की तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में शुक्रवार तड़के फांसी दी गई थी.

रात को शव लेकर परिजन करौली पहुंचे
शुक्रवार को फांसी के बाद शव के पोस्टमार्टम की प्रक्रिया पूरी कर मुकेश के शव को उसके परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया. परिजन शुक्रवार रात करीब साढ़े दस बजे मुकेश के शव को लेकर करौली में भद्रावती नदी किनारे स्थित कल्लादह स्थित घर पहुंचे. उसके बाद शनिवार को घर के समीप ही भद्रावती नदी के किनारे पर उसका अंतिम संस्कार किया गया. इसमें उसके भाइयों सहित अन्य परिजन और आसपास के लोग भी शामिल हुए. मुकेश के भाई सुरेश ने अंतिम संस्कार की प्रक्रिया पूरी की.

शुक्रवार अलसुबह 5.30 बजे दी गई थी फांसी
उल्लेखनीय है कि मुकेश समेत चारों दोषियों को शुक्रवार अलसुबह 5.30 बजे राजधानी दिल्ली स्थित तिहाड़ जेल में एक साथ फांसी दी गई थी. इस मामले के दोषियों ने सजा से बचने के लिए आखिरी वक्त तक हर पैंतरा आजमाया, लेकिन उन्हें राहत नहीं मिल सकी थी. उसके बाद इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष ने इसे ऐतिहासिक दिन बताते हुए कहा था कि निर्भया को 7 साल के बाद न्याय मिला है. देश ने बलात्कारियों को एक कड़ा संदेश दिया है. वहीं निर्भया की मां ने कहा कि आखिरकार न्याय हुआ और अब महिलाएं सुरक्षित महसूस करेंगी. उन्होंने कहा कि भारत की बेटियों के लिए न्याय की खातिर उनकी लड़ाई जारी रहेगी.



Corona: पॉजिटिव पीड़ितों की संख्या हुई 23, जयपुर में चारदीवारी में बाजार बंद

Coronavirus:808 साल में पहली बार लंबे समय के लिए बंद हुए इस दरगाह के दरवाजे

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज