राजस्थान: एक करोड़ की स्मैक के साथ तीन गिरफ्तार, एक महिला तस्कर भी शामिल

राजस्थान की ककरौली पुलिस ने  एक करोड़ की समैक के साथ तीन तस्करों को गिरफ्तार किया है.

राजस्थान की ककरौली पुलिस ने एक करोड़ की समैक के साथ तीन तस्करों को गिरफ्तार किया है.

राजस्थान (Rajasthan) की ककरौली पुलिस (Police) ने एक करोड़ की स्मैक (Smack) के साथ तीन आरोपियों को किया गिरफ्तार किया है. इसमें एक महिला तस्कर भी शामिल है. पुलिस ने गस्त के दौरान तस्करों को पकड़ा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 11, 2021, 8:30 PM IST
  • Share this:
करौली. डीएसटी और नई मंडी थाना हिंडौन पुलिस (Police) ने तीन स्मैक तस्करों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से करीब एक करोड़ रुपए की 700 ग्राम स्मैक (Smack) जब्त की है. आरोपियों से एक किलो ग्राम अफगानी स्मैक और 1 किलोग्राम चाल या टांका भी जब्त किया है. साथ ही एक बिना नंबर की मोटरसाइकिल, स्मैक बिक्री राशि 28.390 रुपये भी बरामद किया है.

पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है. पुलिस अधीक्षक करौली मृदुल कच्छावा ने बताया कि जिले में नशे के कारोबार पर पूर्ण रूप से अंकुश लगाने और युवा वर्ग को नशे के दुष्प्रभाव से बचाने के लिए अवैध मादक पदार्थो की तस्करी, उपयोग, परिवहन के विरूद्व चलाये जा रहे अभियान के तहत जिला स्पेशल टीम (DST) एवं थानाधिकारी नईमंडी हिण्डौन सिटी द्वारा संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए प्रमुख स्मैक तस्कर गोविन्द पुत्र चेतराम गुर्जर निवासी भूरीकापुरा बेडा बनकी थाना सदर हिण्डौन, कारूदास पुत्र जगदीश दास जाति बैरागी निवासी कोटरी थाना अरनोद जिला प्रतापगढ एवं कांताबाई पत्नी कारूदास बैरागी निवासी कोटरी थाना अरनोद जिला प्रतापगढ़ को गिरफ्तार किया है.

स्मैक तस्करों से 700 ग्राम स्मैक, एक किलोग्राम अफगानी स्मैक एवं एक किलोग्राम स्मैक में मिलाने वाली चाल (टांका) तथा स्मैक बिक्री की राशि 28390/-रुपये व परिवहन में प्रयुक्त एक बिना नंबर की पल्सर मोटर साईकिल भी जब्त की है. बता दें कि जिला करौली में अवैध मादक पदार्थो (स्मैक, गांजा, भांग) के उपयोग एवं परिवहन की शिकायतें प्राप्त हो रही थीं. कस्बा करौली, हिण्डौन सिटी, श्रीमहावीरजी, सपोटरा, टोडाभीम, नादौती तथा ग्रामीण इलाकों में अवैध मादक पदार्थ स्मैक का प्रचलन लोगों में काफी बढ़ रहा है. इस नशे से युवा वर्ग भी अछूता नहीं रहा है और युवा वर्ग में भी स्मैक की लत बढ़ने लगी है, जिससे युवा वर्ग स्मैक के नशे की गिरफ्त में आकर अपराधों की ओर अग्रसर हो रहा है.

Covid-19 Update: राजस्थान में कोरोना के 4401 पॉजिटिव केस, संक्रमण से 18 मरीजों की मौत
गश्त के समय बांजना फाटक की तरफ से बिना नंबर की एक पल्सर मोटर साइकिल पर दो व्यक्ति एवं एक महिला आते दिखे. बाइक चालक पुलिस की जीपों को देखकर मोटर साईकिल को वापस घुमाने लगे तो हड़बड़ाहट में मोटर साईकिल फिसल गई. संदेह होने पर थाना अधिकारी दिनेश कुमार मीना ने पुलिस निरीक्षक व जिला स्पेशल टीम के सदस्य परमजीत सिंह कानि. तेजवीर कानि. मोहनसिंह कानि. ने तत्परता दिखाते हुए उनको रोका, तो मोटर साईकिल चालक व पीछे बैठे हुए व्यक्ति द्वारा अपने बैगों को छुपाने की कोशिश करने लगे.

थाना अधिकारी ने उनसे वापस भागने का कारण पूछा तो दोनों व्यक्तियों ने हड़बड़ाहट में अलग-अलग कारण बताया. इस पर पुलिस टीम को इनके पास आपत्तिजनक वस्तु होने का अंदेशा होने पर नाम पता पूछा तो एक व्यक्ति ने अपना नाम गोविन्द पुत्र गुर्जर निवासी भूरीकापुरा बेडा बनकी थाना सदर हिण्डौन का होना बताया. इनकी लताशी में उसके कब्जे से पीठ पर लटके हुए लाल रंग के बैग में अवैध मादक पदार्थ 350 ग्राम स्मैक एवं एक किलोग्राम स्मैक में मिलाने वाली चाल (टांका) तथा स्मैक बिक्री के 7540/- रूपये मिले.

दूसरे व्यक्ति ने अपना नाम कारूदास बैरागी निवासी कोटरी थाना अरनोद जिला प्रतापगढ का होना बताया. इसकी तलाशी में पीठ पर लटके हुए सफेद रंग के बैग में अवैध मादक पदार्थ 300 ग्राम स्मैक एवं एक किलोग्राम अफगानी स्मैक (स्मैक में मिलाने वाली पॉवर) तथा स्मैक बिक्री के 20850/- रुपये मिले तथा साथ बैठी महिला से महिला कानि. द्वारा पूछने पर अपना नाम कांताबाई पत्नि कारूदास जाति बैरागी निवासी कोटरी थाना अरनोद जिला प्रतापगढ का होना बताया. जिसकी नियमानुसार महिला कानि. द्वारा तलाशी ली गई तो उसके कब्जे से 50 ग्राम स्मैक मिली.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज