होम /न्यूज /राजस्थान /Karauli: गरीब महिलाओं और बच्चों को यहां बनाया जा रहा आत्मनिर्भर, आप भी ले सकते हैं मदद

Karauli: गरीब महिलाओं और बच्चों को यहां बनाया जा रहा आत्मनिर्भर, आप भी ले सकते हैं मदद

राजस्थान के करौली जिले में प्योर इंडिया ट्रस्ट जहां गरीब महिलाओं को स्वरोजगार के अवसर देकर उन्हें आत्मनिर्भर बना रहा है ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट: मोहित शर्मा

    करौली. राजस्थान के करौली में प्योर इंडिया ट्रस्ट चर्चाओं में है. दरअसल यह ट्रस्ट जिले की गरीब महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने का काम कर रहा है. यह ट्रस्ट आत्मनिर्भर भारत अभियान को सार्थक बनाकर ग्रामीण एवं गरीब महिलाओं को उनके ही घर पर उनकी इच्छा के अनुसार रोजगार उपलब्ध करा रहा है.

    ट्रस्ट के संस्थापक प्रशांत पाल ने बताया कि वैसे तो ट्रस्ट शिक्षा से लेकर रोजगार तक के मुद्दों पर काम कर रहा है, लेकिन इस ट्रस्ट का मुख्य उद्देश्य महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देना है. अगर एक महिला आर्थिक रूप से सशक्त हो तो, वह पूरे परिवार का ध्यान रख सकती है. इस लक्ष्य के अनुसार ही महिलाओं को उसकी स्वयं की इच्छा से उसके घर पर ही रोजगार प्योर इंडिया ट्रस्ट उपलब्ध करा रहा है.

    करौली में अभी तक 182 महिलाओं को उनकी इच्छा के अनुसार ट्रस्ट द्वारा स्वरोजगार दिया जा चुका है. यह ट्रस्ट एक गांव में एक ही तरह का व्यवसाय खोलता है और उसे सफल बनाने में महिलाओं की हर संभव मदद करता है.

    ट्रस्ट के करौली प्रोजेक्ट मैनेजर खुशबिहारी व्यास ने बताया कि आर्थिक रूप से कमजोर महिलाओं को व्यवसाय खोलने में आर्थिक मदद के साथ साथ उनका लगातार मार्गदर्शन भी किया जाता है और उन्हें समय-समय पर प्रशिक्षण दिया जाता है. ट्रस्ट के द्वारा स्वरोजगार के लिए दी गई आर्थिक मदद वापस नहीं ली जाती है, लेकिन लाभार्थी महिलाओं से प्रतिमाह की बचत एवं बिक्री का हिसाब लिया जाता है. जिससे आगे उनके व्यवसाय को और भी बेहत्तर किया जा सके.

    500 से ज्यादा गरीब बच्चों को दे रहा निःशुल्क शिक्षा

    ट्रस्ट के संस्थापक प्रशांत पाल के अनुसार डांग क्षेत्र के जो बच्चे शिक्षा से वंचित हैं. ऐसे बच्चों के लिए ट्रस्ट के द्वारा निःशुल्क पाठशाला केन्द्र चलाए जा रहे हैं. जिसमें 500 से ज्यादा गरीब छात्रों को निःशुल्क शिक्षा दिलाई जा रही है. ट्रस्ट के द्वारा अभी तक 500 से ज्यादा बच्चों को स्कॉलरशिप भी दिलाई जा चुकी है.

    लाभार्थी महिला ऋतु शर्मा ने बताया कि उनका पार्लर खोलने का सपना था, लेकिन परिवार की आर्थिक स्थिति सही नहीं होने के कारण वह पार्लर नहीं खोल पाई. प्योर इंडिया ट्रस्ट की आर्थिक मदद के कारण मैंने अपना ब्यूटी पार्लर शुरू कर दिया है. जिसके कारण आज मेरे घर की रोजी रोटी चल रही है.

    जरूरतमंद ले सकते हैं ट्रस्ट से सहायता-
    खुश बिहारी व्यास
    प्रोजेक्ट मैनेजर करौली
    संपर्क – 6376678042

    Tags: Karauli news, Rajasthan news in hindi

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें