करौली में पायलट ने सीएम पर किया पलटवार, कहा-राजनीति के अखाड़े में देंगे पटखनी

चुनाव नजदीक आने के साथ ही दिग्गजों में आरोप-प्रत्यारोपों के साथ जुबानी जंग तेज होती जा रही है. मंगलवार को कांग्रेस की करौली में आयोजित संभाग स्तरीय रैली में पीसीसी चीफ सचिन पायलट ने सीएम राजे के बयान पर पलटवार करते हुए कहा है कि राजनीति के अखाड़े में पटखनी देने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे.

Goverdhan Chaudhary | News18 Rajasthan
Updated: September 11, 2018, 9:02 PM IST
करौली में पायलट ने सीएम पर किया पलटवार, कहा-राजनीति के अखाड़े में देंगे पटखनी
सचिन पायलट। फाइल फोटो।
Goverdhan Chaudhary | News18 Rajasthan
Updated: September 11, 2018, 9:02 PM IST
चुनाव नजदीक आने के साथ ही दिग्गजों में आरोप-प्रत्यारोपों के साथ जुबानी जंग तेज होती जा रही है. मंगलवार को कांग्रेस की करौली में आयोजित संभाग स्तरीय रैली में पीसीसी चीफ सचिन पायलट ने सीएम राजे के बयान पर पलटवार करते हुए कहा है कि वसुंधरा राजे ने उनसे बड़ी हैं. वे उनका सम्मान करते हैं. पायलट ने कहा कि राजे ने उनको नौसिखिया कहा है, लेकिन वे राजनीति के अखाड़े में पटखनी देने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे. लोकतंत्र में राजा राजघरानों से नहीं किसान की कोख से पैदा होते हैं. वे किसान परिवार से आते हैं और राजे राजघराने से.

राजे ने हाल में पायलट को नौसिखिया बताया था. राजे के इस बयान पर पायलट ने पहली बार पलटवार किया है. रैली में  पायलट ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए उस पर माफियाओं को पनपाने का आरोप लगाया. पायलट ने कहा कि भाजपा राज में दलित, आदिवासी और किसानों के साथ अत्याचार हुए हैं. पूर्वी राजस्थान की सभी सीटें कांग्रेस को दीजिए. कांग्रेस पूर्वी राजस्थान का विकास करवाएगी. उनकी जो भी मांगें हैं उन्हें पूरा किया जाएगा.

कांग्रेस की यह चौथी संभाग स्तरीय संकल्प रैली आयोजित हुई है. रैली में प्रदेशभर से दिग्गज नेता जुटे थे. इस दौरान कांग्रेस नेताओं ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला. एक तरफ पार्टी के नेता मंच से एकजुटता का संदेश दे रहे थी उसी दौरान विधायक रमेश मीणा के विरोधी गुट ने चलती सभा में काले झंडे दिखाते हुए 'रमेश मीणा हटाओ, सपोटरा बचाओ' के पोस्टर लहरा दिए. इससे वहां एकबारगी हंगामे के हालात हो गए.

मोहन प्रकाश ने गहलोत को बताया राहुल गांधी के बाद नंबर 'टू' नेता

रैली में राष्ट्रीय महासचिव मोहन प्रकाश ने अशोक गहलोत को पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के बाद नंबर 'टू' नेता बताया. मोहन प्रकाश ने इससे पहले चूरू की रैली में गहलोत को सबसे शक्तिशाली महासचिव बताया था.

यह भी पढ़ें:  LIVE राजस्थान छात्रसंघ चुनाव RESULTS: नतीजे आने शुरू, यहां देखें- कहां कौन जीता?

टिकट एक को ही मिलता है
कांग्रेस के राष्ट्रीय संगठन महासचिव अशोक गहलोत ने कार्यकर्ताओं से कहा कि वे कांग्रेस को जिताने का संकल्प लेकर जाएं. चुनाव में टिकट एक को ही मिलता है. कांग्रेस का टिकट मिलने के बाद सभी कार्यकर्ता उस उम्मीदवार को जिताने में जुटें. रैली में भरतपुर संभाग के कार्यकर्ता जुटे थे.

जाम में फंसे वरिष्ठ नेता
रैली में आए वाहनों के कारण हिंडौन-करौली मार्ग पर जबर्दस्त जाम लग गया. इस जाम में अशोक गहलोत व सचिन पायलट समेत पार्टी के वरिष्ठ नेता भी फंस गए. ये सभी वरिष्ठ नेता एक ही बस से करौली पहुंचे थे, लेकिन जाम में फंसने के कारण वे रैली में देरी से पहुंच पाए. वहीं रैली स्थल पर पूर्व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष चंद्रभान भीड़ में फंस गए. चंद्रभान को मंच तक पहुंचने में कड़ी मशक्कत करनी पड़ी. इस दौरान एक बार तो झड़प भी हो गई. बाद में उपनेता प्रतिपक्ष रमेश मीणा चंद्रभान को मंच तक लेकर आए.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर