Home /News /rajasthan /

Rajasthan: 12 इंच लंबी जंगली गोयरा छिपकली ने मचाया हड़कंप, डाकघर छोड़ भागे कर्मचारी

Rajasthan: 12 इंच लंबी जंगली गोयरा छिपकली ने मचाया हड़कंप, डाकघर छोड़ भागे कर्मचारी

स्नेक कैचर गोविंद शर्मा के 
मुताबिक यह जहरीली नहीं होती है. इसमें सिर्फ बैक्टिरिया होते हैं

स्नेक कैचर गोविंद शर्मा के मुताबिक यह जहरीली नहीं होती है. इसमें सिर्फ बैक्टिरिया होते हैं

Wild Lizard News: कोटा में रेलवे के डाकघर में आई जंगली छिपकली ने हड़कंप मचा दिया. करीब 1 फीट लंबी इस जंगली छिपकली को देखकर दहशत में आये कर्मचारी ऑफिस छोड़ भागे. बाद में स्नेक कैचर (Snake Catcher) ने आकर उसे रेस्क्यू किया तक जाकर कर्मचारियों की जान में जान आई. छिपकली को सुरक्षित तरीके से वापस जंगल में छोड़ दिया गया है.

अधिक पढ़ें ...

कोटा. अब तक केवल अजगर, सांप, मगरमच्छ, पैंथर (Python, Snake, Crocodile, Panther) और अन्य जंगली जानवर ही दहशत फैलाते थे लेकिन राजस्थान के कोटा शहर में एक जंगली छपकली (Wild Lizard) ने लोगों को खौफ में ला दिया. इस जंगली छिपकली से ऐसी दहशत फैली वहां अफरातफरी मच गई. बाद में स्नेक कैचर (Snake Catcher) को बुलाकर उसे पकड़वाया गया. स्नेक कैचर ने सुरक्षित जंगल में छोड़ दिया है. स्नेक कैचर के मुताबिक यह जंगली जरुर है लेकिन जहरीली नहीं है. यह सरल स्वभाव की होती है. लोग इसके डरते हैं जबकि इसका स्वभाव ऐसा नहीं है. जंगली छिपकली से दहशत फैलने का यह पहला मामला सामने आया है.

दरअसल कोटा जंक्शन के रेलवे डाक विभाग कार्यालय में मंगलवार को अचानक एक गोयरा जंगली छिपकली आ गई. करीब 12 इंच लंबी इस छिपकली को देखते ही वहां हड़कंप मच गया. जंगली छिपकली को देखकर कर्मचारी कामकाज छोड़कर कार्यालय के बाहर आ गए. हालात को देखकर डाक विभाग के अधिकारियों ने तुरंत स्नेक कैचर गोविंद शर्मा को सूचना दी.

यह सड़ा गला मांस खाकर अपना पेट भरती है
गोविंद शर्मा ने छिपकली का रेस्क्यू किया। तब जाकर रेलवे डाक विभाग के कर्मचारियों ने राहत की सांस ली. गोविंद शर्मा ने इस छिपकली को हाथ में लेकर सभी लोगों को इसके बारे में बताया. गोविंद शर्मा ने बताया कि यह जंगली मेल गोयरा छिपकली है. यह जहरीली नहीं होती है. इसमें सिर्फ बैक्टिरिया होते हैं. यह चूहे और मेढ़क खाती है. यह सड़ा गला मांस खाकर अपना पेट भरती है. यह अनावश्यक किसी को नुकसान नहीं पहुंचाती है.

यह जहां काटती है वहां घाव हो जाता है
बकौल गोविंद शर्मा इसके काटने से किसी की मौत नहीं होती है. इसलिये ना तो इससे डरें और ना ही इसे मारें. इनकी आबादी वैसे ही कम होती जा रही है. लोग इसको देखकर डर जाते हैं. हां, इसके काटने से इंफेक्श जरुर फैलता है. यहां जहां काटती है वहां घाव हो जाता है. लेकिन किसी की मौत नहीं होती है.

कई बार वन्य जीव भी आबादी इलाके में आ जाते हैं
उल्लेखनीय है राजस्थान के विभिन्न इलाकों में आये दिन अजगर, मगरमच्छ और सांप निकलने की घटनायें सामने आती रहती हैं. वहीं कई बार पैंथर और अन्य वन्य जीव भी आबादी इलाके में आ जाते हैं. लेकिन छिपकली से दहशत फैलने का संभवतया यह पहला मामला सामने आया है.

Tags: Rajasthan latest news, Wildlife Amazing Video, Wildlife news in hindi, Wildlife Viral Video

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर