लाइव टीवी

कोटा-डाबी रोड पर अज्ञात वाहन की चपेट में आने से घायल हुआ 7 माह का शावक

News18 Rajasthan
Updated: October 30, 2019, 11:48 AM IST
कोटा-डाबी रोड पर अज्ञात वाहन की चपेट में आने से घायल हुआ 7 माह का शावक
कोटा चिड़ियाघर में चल रहा शावक का इलाज

कोटा-डाबी रोड पर थर्मल पावर स्टेशन (Thermal Power Station) के पीछे अज्ञात वाहन की टक्कर (Collision) से तेंदुए (Leopard) का करीब 7 माह का शावक (Cub) बुरी तरह से जख्मी (Injured) हो गया.

  • Share this:
कोटा. राजस्थान (Rajasthan) में कोटा-डाबी रोड पर थर्मल पावर स्टेशन (Thermal Power Station) के पीछे अज्ञात वाहन की टक्कर (Collision) से तेंदुए (Leopard) का करीब 7 माह का शावक (Cub) बुरी तरह से जख्मी (Injured) हो गया. घटना की सूचना पर मुकुंदरा टाइगर रिजर्व (Mukundra Tiger Reserve), कोटा वन मंडल लाडपुरा रेंज का स्टाफ और वन्यजीव प्रेमी (Wildlife lover) तुरंत मौके पर पहुंचे.

कोटा चिड़ियाघर में चल रहा शावक का इलाज

लहूलुहान हालत में पड़े तेंदुए के शावक को वे तत्काल उठाकर कोटा चिड़ियाघर (Kota Zoo) ले गए, जहां उसका इलाज किया जा रहा है. शावक को अंदरूनी चोट लगने के कारण उसके मुंह से काफी खून बह गया है, जिसकी वजह से उसकी स्थिति गंभीर बनी हुई है.

कोटा-डाबी रोड पर स्पीड ब्रेकर बनाने की मांग

वन्यजीव प्रेमी तपेश्वर सिंह भाटी ने एनएचएआई (National highway authority of India) और यूआईटी (UIT) से कोटा-डाबी रोड पर कोटा थर्मल के गेट नंबर 4 के पास हाईवे पर स्पीड ब्रेकर (Speed ​​breaker) बनाने की मांग की है, ताकि वाहनों गति पर लगाम लग सके. साथ ही वन्यजीव अकाल मौत का शिकार होने से बचे.

4-5 दिनों से थर्मल कर्मचारी प्लांट में तेंदुए के मूवमेंट होने की शिकायत आ रही थी

गौरतलब है कि करीब 6 से 7 माह पहले भी अज्ञात वाहन की टक्कर से मादा तेंदुए की मौत हो चुकी है. ऐेसे में आगे से इस तरह के हादसे दोबारा न हो इसके लिए वन्यजीव प्रेमियों ने हाईवे पर स्पीड ब्रेकर बनाने की मांग की है. हाईवे के आसपास काम करने वाले मजदूरों का कहना है कि तेंदुए के इस इलाके में 4 शावक हैं, जो अक्सर घूमते हुए इलाके में देखे जाते हैं. पास में ही मुकुंदरा टाइगर रिजर्व का एरिया और अभेड़ा बायोलॉजिकल पार्क के अलावा थर्मल का जंगल है, जहां पिछले 4-5 दिनों से थर्मल कर्मचारी प्लांट में तेंदुए के मूवमेंट होने की शिकायत कर रहे हैं. तेंदुए को दूसरी जगह शिफ्ट करने की वन विभाग से मांग कर रहे थे, जबकि वन्यजीव प्रेमियों का कहना है कि तेंदुए को दूसरी जगह पर शिफ्ट करना मुश्किल है.
Loading...

(कोटा से अर्जुन अरविंद की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें:- रोड एक्सीडेंट में बच्चे हुए अनाथ, कार की भीषण टक्कर में बाइक सवार दंपति की मौत

ये भी पढ़ें:- अजमेर यौन शोषण केस: आप मेरे बाप बराबर हो, ऐसी हरकत क्यों की...? वायरल ऑडियो

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कोटा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 30, 2019, 11:48 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...