Home /News /rajasthan /

पानी भरने से अचानक डूबी नाव, न्यूज18 की टीम ने जान जोखिम में डालकर की मदद

पानी भरने से अचानक डूबी नाव, न्यूज18 की टीम ने जान जोखिम में डालकर की मदद

कोटा में बाढ़ (फाइल फोटो)

कोटा में बाढ़ (फाइल फोटो)

मामला कोटा के नयापुरा का है. यहां पर गलियों में पानी भर गया है. इसकी वजह से घर से निकलना मुश्किल हो गया है.

    कोटा. राजस्थान (Rajasthan) के कोटा (Kota) से एक बड़ी खबर सामने आई है, जहां न्यजू18 इंडिया की टीम ने अपनी जान पर खेलकर लोगों की मदद की. दरअसल, न्यूज18 की टीम बाढ़ग्रस्त इलाके (Flooded areas) में नाव पर सवार होकर रिपोर्टिंग पर निकली थी. इस दौरान नाव में अचनाक पानी (Water) भर गया, जिससे नाव डूब गई. इस दौरान न्यूज18 इंडिया की टीम ने लोगों को ऊंचे स्थान पर पहुंचाने में मदद की.

    मामला कोटा के नयापुरा का है
    जानकारी के मुताबिक, मामला कोटा के नयापुरा का है. यहां पर गलियों में पानी भर गया है. इसकी वजह से घर से निकलना मुश्किल हो गया है. गलियों में नाव चल रही हैं. कहा जा रहा है कि राहत सामग्री लेकर एक नाव जा रही थी. इसी नाव पर न्यूज18 इंडिया की टीम भी सवार थी. तभी पानी भर जाने से नाव डूब गया. ऐसे में न्यूज18 इंडिया की टीम ने लोगों को पानी से निकालने में मदद की.



    जब करीब कौटिल्य नगर के वाशिंदे खुद को पानी से घिरा हुआ पाया था
    बता दें कि जुलाई महीने में भी कोटा बाढ़ आ गई थी. जब देवली अरब के करीब कौटिल्य नगर के बाशिंदे सुबह जब नींद से जागे तो खुद को पानी से घिरा हुआ पाया था. लोगों ने अपने अपने मकानों की छतों पर जाकर शरण ली थी. उसके बाद वहां पहुंची एसडीआरएफ, सिविल डिफेंस और नगर निगम की संयुक्त टीमों ने करीब 50 से ज्यादा लोगों को मोटर बोट की मदद से सुरक्षित बाहर निकाला था. रेस्क्यू टीमों ने मोर्चा संभालने के बाद लोगों को राहत पहुंचानी शुरू कर दी थी. कॉलोनियों में चारों तरफ पानी ही पानी भर गया था.

    ये भी पढ़ें- 

    रात 2 बजे पति ने पत्नी से कहा- 'तलाक- तलाक- तलाक', सुबह मारपीट कर घर से निकाला

    बारिश का कहर: इस स्‍कूल में 24 घंटों से फंसे हैं 400 बच्चे और शिक्षक

    Tags: Boat, Flood, Kota news, Rajasthan PCC

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर