कोटा एयरपोर्ट की फाइलों ने भरी उड़ान, जल्द पूरा हो सकता है हवाई सेवा का सपना

राज्य सरकार ने भी एक बार फिर एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया की टीम को कोटा आकर जमीन चिन्हित करने की अपनी मंशा जाहिर कर दी है.

राज्य सरकार ने भी एक बार फिर एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया की टीम को कोटा आकर जमीन चिन्हित करने की अपनी मंशा जाहिर कर दी है.

अगर सब कुछ ठीकठाक रहा तो कोचिंग सिटी कोटा में एयरपोर्ट (Airport) का सपना जल्द पूरा हो जायेगा. एयरपोर्ट से जुड़ी फाइलें और सिस्टम (Files and system) अब तेजी से दौड़ रहा है.

  • Share this:
कोटा. कोचिंग सिटी कोटा में हवाई सेवा (Air service) शुरू करने के लिये नये एयरपोर्ट (Airport) बनाने के दो दशक पुराने मुद्दे के अब पूरे होने की आस जगी है. लोकसभा स्पीकर ओम बिरला के प्रयासों और राज्य सरकार की सकारात्मक संकेतों के बाद उम्मीद की जा रही है कि इस बार कोटावासियों की मुराद पूरी हो जायेगी. बशर्तें इसमें कोई राजनीतिक रोड़ा फिर ना आ जाये.

कोटा में हवाई सेवा शुरू करने और जल्द नये एयरपोर्ट के निर्माण किये जाने की दरकार लंबे वक्त से है. इस वक्त हाड़ौती के दो दिग्गज नेता लोकसभा स्पीकर ओम बिरला और राज्य सरकार में नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल भी पूरी पावर में है. हाड़ौतीवासियों की उम्मीद है दोनों ताकतवर नेता राज्य सरकार से लेकर केन्द्र सरकार तक कोटा में नये एयरपोर्ट बनाने और हवाई सेवा शुरू करवाने के उनके सपने को पूरा करने में शिद्दत के साथ जुड़ेंगे.

लोकसभा स्पीकर ने हाल ही में दिये हैं सख्त निर्देश

हाल ही में कोटा-बूंदी सांसद लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के अधिकारियों के साथ बैठक कर शंभूपुरा के पास चयनित की गई जमीन को जल्द टेकओवर करके नये एयरपोर्ट की दिशा में आगे बढ़ने के निर्देश दिए हैं. इससे पहले भी एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया की टीम कोटा के शंभूपुरा का दौरा कर जमीन चिन्हित कर चुकी थी. लेकिन राज्य सरकार की ओर से जमीन को लेकर कुछ संशोधन के प्रस्ताव के बाद मामला ठंडा पड़ गया था.
राज्य सरकार ने भी अपनी मंशा जाहिर कर दी है

अब लोकसभा स्पीकर ओम बिरला की ओर से कोटा में नये एयरपोर्ट का काम जल्द शुरू करवाने के दिए गए सख्त निर्देश के बाद नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने राज्य सरकार को शंभूपुरा में चयनित की गई 500 हेक्टेयर भूमि जल्द हस्तांतरित करने का पत्र भेजा है. राज्य सरकार ने भी एक बार फिर एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया की टीम को कोटा आकर जमीन चिन्हित करने की अपनी मंशा जाहिर कर दी है.

एयरपोर्ट की फाइलें तेजी से दौड़ रही हैं



हालांकि यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल ने नये एयरपोर्ट के लिए 500 हेक्टेयर भूमि को ना सिर्फ दूसरे एयरपोर्ट की तुलना में ज्यादा बताया है बल्कि नये एयरपोर्ट के बजट को लेकर भी सवाल खड़े किये हैं. लेकिन फिर भी एयरपोर्ट को लेकर जिस तरह से फाइलें तेजी से दौड़ रही हैं उससे उम्मीद की जा रही है कि इस बार सपना साकार होगा। एयरपोर्ट अथॉरिटी की टीम जल्द आकर इसे मूर्तरूप देने की दिशा में आगे कदम बढ़ायेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज