Kota News: BJP विधायक मदन दिलावर का हाई वोल्टेज ड्रामा, UIT सचिव के चेम्बर में 3 घंटे दिया धरना

दिलावर ने कहा कि अभियंता को उसके व्यवहार के लिए वे माफ कर रहे हैं लेकिन उसके द्वारा किए गए भ्रष्टाचार कि वे जांच करवाकर रहेंगे.

कोटा नगर विकास न्यास के एक अभियंता पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाकर बीजेपी विधायक एवं पार्टी के प्रदेश महामंत्री मदन दिलावर (BJP MLA Madan Dilawar) ने न्यास सचिव के चेम्बर में तीन घंटे तक धरना दिया. बाद में जिला कलक्टर के दखल से यह हाई वोल्टेज ड्रामा (High voltage drama) समाप्त हुआ.

  • Share this:
कोटा. कोचिंग सिटी कोटा में एक बार फिर हाई वोल्टेज ड्रामा (High voltage drama) हुआ. बीजेपी के रामगंजमंडी विधायक एवं पार्टी के प्रदेश महामंत्री मदन दिलावर (BJP MLA Madan Dilawar) ने नगर विकास न्यास कार्यालय के एक अभियंता पर अभद्र व्यवहार करने का आरोप लगाते हुये न्यास सचिव राजेश जोशी के चेम्बर में 3 घंटे तक धरना दिया. इसकी सूचना मिलने पर नगर विकास न्यास के अध्यक्ष जिला कलक्टर उज्जवल राठौड़ और अतिरिक्त जिला कलक्टर आरडी मीणा वहां पर पहुंचे और हालात को संभाला.

न्यास अध्यक्ष एवं जिला कलक्टर राठौड़ ने विधायक मदन दिलावर से पूरा घटनाक्रम जाना. विधायक दिलावर ने न्यास के अभियंता कमल मीणा के खिलाफ 2 सदस्यीय जांच कमेटी गठित करके उसके द्वारा कराये गए निर्माण कार्यों और प्रधानमंत्री आवास योजना में आवंटित राशि के मामले की निष्पक्ष जांच कराने की मांग की. विधायक ने अधिकारियों को इस बारे में लिखित में अपना मांग-पत्र सौंपा. दिलावर की ओर से उठाई गई मांग पर कलक्टर ने तत्काल अतिरिक्त जिला कलक्टर आरडी मीणा और न्यास सचिव राजेश जोशी को जांच करने के निर्देश दिये.

3 घंटे तक चला हाई वोल्टेज ड्रामा
न्यास कार्यालय में यह हाई वोल्टेज ड्रामा करीब तीन घंटे तक चला. जिला कलक्टर द्वारा दिलावर की मांग माने जाने के बाद उन्होंने अपना धरना समाप्त किया. दरअसल विधायक दिलावर शाम करीब 5 बजे नगर विकास न्यास सचिव के चेम्बर में प्रधानमंत्री आवास योजना के मामले को लेकर चर्चा करने पहुंचे थे. तभी सचिव राजेश जोशी ने अभियंता कमल मीणा को प्रधानमंत्री आवास योजना की जानकारी के लिए अपने चेम्बर में बुलाया. इसी दौरान विधायक और अभियंता कमल मीणा के बीच बात बिगड़ गई. विधायक दिलावर कमल मीणा पर अभद्र व्यवहार का आरोप लगाते हुए न्यास सचिव के चेम्बर में धरने पर बैठ गये.

दिलावर बोले भ्रष्टाचार की जांच करवाकर रहेंगे
पहले मामले की जानकारी मिलने पर दो पुलिस उप अधीक्षक संबंधित थानों से जाब्ता लेकर मौके पर पहुंचे. न्यास कार्यालय के तमाम दरवाजों पर जाब्ता तैनात कर दिया गया. पुलिस प्रशासन ने विधायक से कई बार समझाइश की लेकिन वे नहीं माने और धरने पर बैठे रहे. दिलावर के धरने पर बैठने की सूचना पर बीजेपी संगठन के कार्यकर्ताओं और अन्य पदाधिकारी भी वहां पहुंच गये. हंगामा बढ़ता देखकर कलक्टर उज्जवल राठौड़ और अतिरिक्त कलक्टर आरडी मीणा नगर विकास न्यास कार्यालय पहुंचे. बाद में न्यास अध्यक्ष के चेम्बर में चली लंबी वार्ता के बाद मामले का समाधान निकाला गया. दिलावर ने कहा कि अभियंता को उसके व्यवहार के लिए वे माफ कर रहे हैं लेकिन उसके द्वारा किए गए भ्रष्टाचार कि वे जांच करवाकर रहेंगे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.