कोटा कलेक्टर का ऑफिस बना BJP विधायकों का धरना स्थल, एक साथ प्रदर्शन करने बैठे 2 MLA

धरने पर बैठे बीजेपी विधायक व उनके समर्थक.

धरने पर बैठे बीजेपी विधायक व उनके समर्थक.

राजस्थान (Rajasthan) के कोटा (Kota) के बीजेपी विधायकों (BJP MLA) के लिए जिला कलेक्टर का चैंबर धरना स्थल बना हुआ है.

  • Share this:

कोटा. राजस्थान के कोटा (Kota) के बीजेपी विधायकों (BJP MLA) के लिए जिला कलेक्टर का चैंबर धरना स्थल बना हुआ है. सरकार व प्रशासन से अपनी मांग मनवाने के लिए  करीब 12 दिनों में बीजेपी विधायक तीन बार कोटा कलेक्टर उज्ज्वल राठौड़ के चैंबर में धरना प्रदर्शन कर चुके हैं. विधायक मदन दिलावर रामगंजमंडी विधानसभा क्षेत्र में डाक्टरों की तैनाती व मेडिकल स्टाफ के खाली पदों की पूर्ति करवाने की मांग को लेकर कलेक्टर चैंबर में धरना प्रदर्शन कर चुके हैं. कलेक्टर के चैंबर में बीजेपी के प्रदेश महामंत्री व रामगंजमंडी विधानसभा के विधायक मदन दिलावर व कोटा दक्षिण विधानसभा के विधायक संदीप शर्मा ने धरना प्रदर्शन किया.

दो विधायकों ने यह धरना इसलिए दिया कि कोटा दक्षिण विधानसभा क्षेत्र के गोबरिया बावड़ी इलाके में नगर विकास न्यास  विकास कार्य करवा रहा है, जिसमें न्यास ने इलाके में इसके लिए कुछ दुकानें और मकानों को अधिग्रहण किया है, न्यास उन्हें हटाएगा. वहीं अधिग्रहित हुए दुकानों व मकानों के मालिक सरकार से उचित मुआवजें की मांग कर रहे हैं. न्यास प्रशासन ने पुलिस का सहयोग लेते हुए अपने घर-दुकान के बाहर धरना प्रदर्शन करने वाले दुकान व मकान मालिकों का न्यास ने धरने से हटाने  कार्रवाई की तो हंगामा हो गया.

कार्रवाई रोकने से इनकार

सूचना मिलने पर कोटा दक्षिण विधायक संदीप शर्मा ने प्रशासन से बात करनी चाहिए, लेकिन प्रशासन कार्रवाई रोकने से नहीं माना तो भाजपा विधायक संदीप शर्मा अपनी पार्टी के वरिष्ठ विधायक मदन दिलावर को लेकर कोटा कलेक्ट्रेट पहुंचे. न्यास विकास न्यास के अध्यक्ष व जिला कलेक्टर उज्जवल राठौड़ के चैंबर में पहुंचकर दोनों धरने पर बैठ गए.
भाजपा विधायकों का सरकार व न्यास प्रशासन पर आरोप हैं कि न्यास के जरिए सरकार 105 दुकानदारों व मकान मालिकों को बिना पुनर्वास व मुआवजा दिए बगैर बेदखल करने जा रही है. ऐसी कार्रवाई भाजपा बर्दाश्त नहीं करेंगी. भाजपा के दोनों विधायकों ने आरोप लगाया कि नगर विकास न्यास सरकार की गुमराह कर उनकी जगह को अधिग्रहण कर रहा है. काफी देर धरना देने के बीच कलेक्टर उज्ज्वल राठौड़ की समझाइश पर विधायक मानें और चैंबर में दिया धरना खत्म किया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज