कोटा पहुंची COVAXIN की पहली खेप, 47 सेंटर पर होगा टीकाकरण

COVAXIN: कोवैक्सीन की पहली खेप राजस्थान के कोटा (KOTA) पहुंच चुकी है. प्रदेश में वैक्सीनेशन (Vaccination) के अभियान को बेहद तेजी से और सावधानीपूर्वक अंजाम दिया जा रहा है. सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) लगातार खुद पूरे मामले की मॉनिटरिंग कर रहे हैं.

COVAXIN: कोवैक्सीन की पहली खेप राजस्थान के कोटा (KOTA) पहुंच चुकी है. प्रदेश में वैक्सीनेशन (Vaccination) के अभियान को बेहद तेजी से और सावधानीपूर्वक अंजाम दिया जा रहा है. सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) लगातार खुद पूरे मामले की मॉनिटरिंग कर रहे हैं.

  • Share this:
    कोटा. देश भर में कोरोना वैक्सीन लगाए जाने का महाअभियान जारी है. ऐसे में राजस्थान के कोटा में सोमवार को जिले की 47 जगहों पर 57 सेशन में टीकाकरण होना तय हुआ है. चिकित्सा विभाग का कहना है कि शहरी क्षेत्र के 24 सरकारी और निजी संस्थानों में 34 सेशन होंगे वहीं ग्रामीण इलाकों में 23 संस्थानों में 23 सेशन होंगे. वहीं जिले में 14 जनवरी को कोवीशील्ड की 20 हजार 220 डोज़ मिलने के बाद जिले में को वैक्सीन की 6 हजार डोज़ की पहली खेप पहुंच गयी है. जानकारी के मुताबिक कोविड-19 वैक्सीनेशन प्रभारी डॉ. अभिमन्यु को यह डोज़ सौंपी गयी.

    इससे पहले रविवार से 167 की जगह 350 साइट्स पर वैक्सीनेशन शुरू हो गया है. जरूरत पड़ने पर इसे और बढ़ाया जा सकता है. निजी अस्पतालों में भी साइट्स की संख्या बढ़ाई जा सकती है. सीएम गहलोत ने कहा कि टीकाकरण से कोई गंभीर या असामान्य दुष्प्रभाव देखने को नहीं मिला है. लिहाजा लोगों को उत्साह से टीकाकरण करवाना चाहिए और भ्रांति से बचना चाहिए. वहीं राजस्थान में वैक्सीन का वेस्टेज प्रतिशत भी 10 के मुकाबले 3.40 हो गया है.



    टीकाकरण शुरू होने पर खुशी जताते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत  ने कहा, 'सभी को इस दिन का बेसब्री से इंतजार था. आखिरकर, टीका आ गया. टीकाकरण 167 बूथों पर हो रहा है, प्रदेश के हर व्यक्ति को टीका लगाने में एक से डेढ़ साल का समय लगेगा. तब तक, हमें COVID 19 से संबंधित प्रोटोकॉल का पालन करना जारी रखना होगा.' जयपुर में 21 सेंटर्स सहित प्रदेश के सभी शहरों इसके साथ ही अब हेल्थ वॉरियर्स को टीका लगाने का सिलसिला शुरू हो चुका है. वे बेहद उत्साह में दिखाई दे रहे हैं. कारण, उन्हें पूरी दुनिया के सबसे बड़े टीका अभियान में सबसे पहले चुना गया है. जयपुर के सबसे बड़े अस्पताल एसएमएस में अभी प्रक्रिया चल रही है.

    बता दें कि कोवैक्सीन की पहली खेप राजस्थान पहुंच चुकी है. प्रदेश में वैक्सीनेशन के अभियान को बेहद तेजी से और सावधानीपूर्वक अंजाम दिया जा रहा है. सीएम अशोक गहलोत लगातार खुद पूरे मामले की मॉनिटरिंग कर रहे हैं. टीकाकरण के मद्देनजर इसमें किसी तरह की लापरवाही ना हो इसके लिये लगातार नये-नये निर्देश दिये जा रहे हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.