अपना शहर चुनें

States

COVID-19: कोटा से 3000 छात्र UP सरकार की बसों में भरकर अपने घर के लिए रवाना, 7000 अब भी इंतजार में

लगभग तीन हजार छात्र उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा भेजी गईं 100 बसों में सवार होकर शनिवार को कोटा से अपने-अपने घरों को रवाना हो गए, (फाइल फोटो)
लगभग तीन हजार छात्र उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा भेजी गईं 100 बसों में सवार होकर शनिवार को कोटा से अपने-अपने घरों को रवाना हो गए, (फाइल फोटो)

लगभग तीन हजार छात्र उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) द्वारा भेजी गईं 100 बसों में सवार होकर शनिवार को कोटा (Kota) से अपने-अपने घरों को रवाना हो गए, लेकिन सात हजार छात्र अब भी अपनी बारी के इंतजार में हैं. इनके लिए और बसों का इंतजाम किया जाएगा.

  • Share this:
कोटा. कोरोनावायरस (Covid-19) को फैलने से रोकने के लिए राष्ट्रव्यापी लॉक डाउन लागू किया गया है. लॉक डाउन के चलते राजस्थान के कोटा में कोचिंग करने आए उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के हजारों छात्र फंसे हुए हैं. कोटा में फंसे छात्रों को घर पहुंचाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने बसों का इंतजाम करने का निर्देश दिया था. इसके बाद यूपी सरकार इन छात्रों को अपनी बसों से कोटा से लाना शुरू कर चुकी है. लगभग तीन हजार छात्र उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा भेजी गईं 100 बसों में सवार होकर शनिवार को कोटा (Kota) से अपने-अपने घरों के लिए रवाना हुए, लेकिन सात हजार छात्र अब भी अपनी बारी के इंतजार में हैं.

और बसों का किया जाएगा इंतजाम: जनसंपर्क उप निदेशक
उत्तर प्रदेश सरकार ने करीब 7,500 छात्रों का अनुमान लगाकर शुक्रवार को 250 बसें कोटा भेजी थीं, लेकिन यात्रा का प्रबंध होने की खबर मिलने के बाद शहर के तीन रवानगी केन्द्रों पर और अधिक छात्र जमा हो गए. कुछ छात्र अपने परिजनों के साथ आए हुए थे. अधिकारियों को डर है कि कहीं घर जाने के इच्छुक छात्रों के लिए बसें कम न पड़ जाएं. हालांकि कोटा के जनसंपर्क उपनिदेशक हरिओम गुर्जर ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार ने उन्हें आश्वस्त किया है कि कमी पड़ने पर और बसों का इंतजाम किया जाएगा.

छात्रों को भेजने की प्रक्रिया जारी
अधिकारियों ने कहा कि कोटा प्रशासन ने कोचिंग संस्थानों द्वारा दी गई सूचना के आधार पर छात्रों की एक सूची तैयार की थी. इसमें वो छात्र शामिल नहीं थे जो किसी शिक्षण संस्थान में पंजीकरण कराए बगैर पढ़ाई कर रहे हैं. इस कवायद की निगरानी कर रहे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश मिल ने बताया कि लगभग तीन हजार छात्रों को लेकर 100 बसें शनिवार तड़के उत्तर प्रदेश के लिए रवाना हो गईं. उन्होंने कहा कि इस सूची में शामिल छात्रों को भेजने की प्रक्रिया जारी है.



ये भी पढ़ें - 

COVID-19: दिल्ली के जहांगीरपुरी में एक ही परिवार के 26 हुए संक्रमित

डॉक्टर ने की खुदकुशी, AAP विधायक पर आत्महत्या के लिए मजबूर करने का आरोप
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज