Home /News /rajasthan /

deva gurjar murder case latest update conspirator bhairu not yet in hands of police strange crime mystery of kota rjsr

देवा गुर्जर हत्याकांड की कड़ियांं जोड़ना हो रहा मुश्किल, आखिर क्यों पनपी भैंरू से दुश्मनी?

शातिर बदमाश भैंरू गुर्जर (सफेद कपड़ों में) हत्या के एक मामले में पहले भी सजा काट चुका है.

शातिर बदमाश भैंरू गुर्जर (सफेद कपड़ों में) हत्या के एक मामले में पहले भी सजा काट चुका है.

Deva Gurjar Murder Case Update: कोटा के हिस्ट्रीशीटर देवा गुर्जर की हत्या दिनदहाड़े 21 दिन पहले चित्तौड़गढ़ के रावतभाटा में कर दी गई थी. देवा गुर्जर हत्याकांड की जांच एसआईटी कर रही है. अब तक 24 आरोपियों की गिरफ्तारी हुई है लेकिन साजिश में शामिल रहा कुख्यात बदमाश भैंरू गुर्जर अभी तक पुलिस के हाथ नहीं आया है. पूर्व में भी हत्या के एक मामले में सलाखों के पीछे रह चुका है. भैंरू गुर्जर, बाबूलाल गुर्जर का बड़ा भाई है. बाबूलाल के साथ ही देवा गुर्जर सोशल मीडिया के लिए वीडियो बनाया करता था. भैंरू गुर्जर की तलाश में पुलिस के करीब 30 अधिकारियों समेत 100 जवान कोटा के ईदगिर्द लगभग 500 किलोमीटर एरिया के चप्पे-चप्पे पर उसकी तलाश में जुटे हैं. लेकिन उसका अभी तक कोई सुराग नहीं लग पाया है. पुलिस के लिए इस हत्याकांड की कड़ी से कड़ी जोड़ना मुश्किल हो रहा है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

देवा गुर्जर की 21 दिन पहले रावतभाटा में हुई थी हत्या
हत्याकांड के 24 आरोपियों को जेल भेजा जा चुका है

कोटा. देवा गुर्जर के हत्याकांड (Deva Gurjar murder case) में शामिल 24 आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद भी कोटा पुलिस की सांसें फूली हुई हैं. वजह है इस हत्याकांड का फरार चल रहा आरोपी भैंरू गुर्जर (Conspirator Bhairu Gurjar). पुलिस भैंरू गुर्जर की तलाश में राजस्थान और इससे सटे मध्य प्रदेश के जंगलों समेत करीब 500 किलोमीटर के दायरे उसके हर संभावित ठिकानों पर दबिशें दी रही हैं, लेकिन वह मिल ही नहीं रहा है. भैंरू गुर्जर की तलाश में राजस्थान पुलिस के 30 अधिकारियों समेत करीब 100 जवान जुटे हैं. लेकिन भैंरू गुर्जर पुलिस के हाथ नहीं आ रहा है. भैंरू गुर्जर देवा गुर्जर हत्याकांड की साजिश की अहम कड़ी है. उसके गिरफ्त में आये बिना पुलिस के लिए इस हत्याकांड की कड़ी से कड़ी जोड़ना मुश्किल हो रहा है.

पुलिस के अनुसार वह भैंरू गुर्जर को दबोचने के लिए हर मुमकिन प्रयास कर रही है. पुलिस की टीम उसके हर एक संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है. राजस्थान और इससे सटे एमपी के जंगलों को कोना-कोना छाना जा रहा है. पुलिस ने अपने सर्च ऑपरेशन का एरिया 500 किलोमीटर तक बढ़ा दिया है लेकिन भैंरू गुर्जर का सुराग नहीं लग पा रहा है.

भैंरू गुर्जर हत्या के एक मामले में पहले भी सजा काट चुका है
शातिर बदमाश भैंरू गुर्जर हत्या के एक मामले में पहले भी सजा काट चुका है. पुलिस ने उस पर पांच हजार रुपये का इनाम भी घोषित कर दिया है. पुलिस के अनुसार उसकी सूचना देने वाला नाम गुप्त रखा जाएगा. लेकिन अभी तक कहीं से भी उसका कोई सुराग नहीं मिल पाया है. भैंरू गुर्जर देवा गुर्जर हत्याकांड के मुख्य आरोपी बाबूलाल गुर्जर का बड़ा भाई है. पुलिस के सामने इस हत्याकांड की साजिश में उसका अहम रोल सामने आया है.

‘दोस्त बने दुश्मन’

जानकारी के मुताबिक, देवा गुर्जर लेबर कॉन्ट्रैक्टर से लेकर कई तरह के धंधों में शामिल था. डीजे बुकिंग का भी कारोबार करता था. वह इन धंधों से होने वाली कमाई के वीडियो भी बनाया करता था. वह अपने साथियों के साथ टेबल पर 500 और 2 हजार रुपए के नोटों की कई गड्डियों लगाकर वीडियो बनाता था. कमाई को लेकर ही उसके और उसके दोस्त बाबूलाल गुर्जर के बीच मनमुटाव शुरू हुई. बाबूलाल गुर्जर का बड़ा भाई भैंरू भी हिस्ट्रीशीटर है. यह मनमुटाव थमा नहीं और हत्याकांड में बदल गया.

देवा गुर्जर की 21 दिन पहले रावतभाटा में दिनदहाड़े की गई थी हत्या
उल्लेखनीय है कि देवा गुर्जर की 21 दिन पहले चित्तौड़गढ़ के रावतभाटा में दिनदहाड़े क्रूरतापूर्वक हत्या कर दी गई थी. पुलिस इस मामले में अब तक 24 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है. सभी आरोपियों को बारी-बारी से रिमांड पर लेकर उनसे पूछताछ की गई है. उसके बाद सभी को जेल भिजवा दिया गया है. इस मामले में अब केवल भैंरू गुर्जर ही फरार है. देवा गुर्जर हत्याकांड की जांच एसआईटी कर रही है. भैंरू गुर्जर को पकड़ना अब पुलिस के लिए तगड़ी चुनौती हो गई है.

Tags: Chittorgarh news, Crime News, Kota news, Rajasthan news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर