खुलासा : किस देश के हैं JNU के 82 विदेशी छात्र? विश्‍वविद्यालय प्रशासन को भी नहीं मालूम

कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए इस तरह की अपील की गई है. (फाइल फोटो)

देश की राजधानी दिल्ली में स्थित प्रसिद्ध जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU University) में पढ़ने वाले विदेशी छात्रों (Foreign students) को लेकर चौंकाने वाला खुलासा हुआ है.

  • Share this:
    कोटा. देश की राजधानी दिल्ली में स्थित प्रसिद्ध जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU University) में पढ़ने वाले विदेशी छात्रों (Foreign students) को लेकर चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. धरने-प्रदर्शन और मारपीट की घटनाओें को लेकर देशभर में चर्चा का विषय बने इस विश्वविद्यालय में भारत के अलावा 48 देशों के 301 विदेशी स्टूडेंटस पढ़ते हैं, लेकिन चौंकाने वाली बात यह है कि इनमें से 82 स्टूडेंटस के बारे में यूनिवर्सिटी प्रशासन को यह पता नहीं है कि वे कौन से देशों के हैं.

    RTI से हुआ खुलासा
    यह खुलासा हुआ है कोटा के सामाजिक कार्यकर्ता सुजीत स्वामी की ओर से लगाई गई एक आरटीआई अर्जी पर दिए गए जवाब से. सुजीत ने हाल ही में 5 जनवरी को जेएनयू में एक आरटीआई लगाकर कुछ सवालों के जवाब मांगे थे. इन सवालों के जवाब में 14 जनवरी को जब जेएनयू से जवाब आया तब इस बात खुलासा हुआ. सुजीत ने जेएनयू में कितने स्टूडेंटस अध्ययनरत हैं, किस-किस प्रोग्राम में कितने स्टूडेंटस हैं, कितने विदेशी स्टूडेंटस हैं, वे किस-किस देश से आए हैं और वे किस कोर्स में पढ़ रहे हैं समेत कुछ अन्य सवालों के जवाब मांगे थे. सुजीत के इन्हीं सवालों की जानकारी में जेएनयू प्रशासन ने चौंकाने वाली यह जानकारी दी है.

    खुलासा: JNU के 82 स्टूडेंटस के बारे में प्रशासन को पता नहीं कौनसे देश के हैं ? Disclosure: JNU administration don't know about 82 students of they are Which country ?
    जेएनयू की ओर से भेजा गया जवाब.


    खुलासा: JNU के 82 स्टूडेंटस के बारे में प्रशासन को पता नहीं कौनसे देश के हैं ? Disclosure: JNU administration don't know about 82 students of they are Which country ?
    जेएनयू ने भेजा ये जवाब।


    खुलासा: JNU के 82 स्टूडेंटस के बारे में प्रशासन को पता नहीं कौनसे देश के हैं ? Disclosure: JNU administration don't know about 82 students of they are Which country ?
    सुजीत ने ये पूछे थे सवाल।


    48 देशों के 301 विदेशी स्टूडेंटस पढ़ते हैं
    जेएनयू ने सुजीत के सवालों के जवाब में बताया कि यहां 48 देशों के 301 विदेश स्टूडेंटस पढ़ते हैं. उनमें से 82 स्टूडेंटस के बारे में यूनिवर्सिटी प्रशासन को यह पता नहीं है कि वे कौनसे देशों के मूल निवासी हैं. इन 82 स्टूडेंटस की नागरिकता की जगह लिखा है 'नॉट अवेलेबल'. सुजीत का कहना है कि ये विदेशी स्टूडेंट्स 78 अलग-अलग कोर्स में पढ़ रहे हैं.

    खुलासा: JNU के 82 स्टूडेंटस के बारे में प्रशासन को पता नहीं कौनसे देश के हैं ? Disclosure: JNU administration don't know about 82 students of they are Which country ?
    82 स्टूडेंटस की नागरिकता की जगह लिखा है 'नॉट अवेलेबल'.


    चौंकाने वाले खुलासे
    आरटीआई कार्यकर्ता सुजीत ने बताया कि इन 82 विदेशी छात्रों को 'नॉट अवेलेबल' की श्रेणी में दर्शाया गया है. इसका मतलब है कि इन स्टूडेंट्स की राष्ट्रीयता की जानकारी विश्वविद्यालय प्रशासन के पास नहीं है. ऐसे में सवाल यह पैदा होता है कि इन स्टूडेंट्स को प्रवेश कैसे दे दिया गया? यह देश की सुरक्षा से जुड़ा सवाल है. इनकी राष्ट्रीयता की जानकारी क्यों नहीं ली गई? यह मौजूदा वर्ष का डाटा है.

    (रिपोर्ट- अर्जुन अरविंद)

    शोरूम संचालक ने ट्रायल रूम में महिला के अश्लील फोटो खींचे, फिर किया रेप

    पूर्व सीएम वसुंधरा राजे से बंगला नं-13 खाली नहीं करवाएगी गहलोत सरकार

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.