होम /न्यूज /राजस्थान /

फौजी ने मंगेतर के नाम लिखा मैसेज 'जया तुम नहीं तो मैं भी नहीं', ...और फंदे से लटक गया

फौजी ने मंगेतर के नाम लिखा मैसेज 'जया तुम नहीं तो मैं भी नहीं', ...और फंदे से लटक गया

फौजी पप्पूलाल तीन दिन पहले ही छुट्टी लेकर अपने गांव आया था.

फौजी पप्पूलाल तीन दिन पहले ही छुट्टी लेकर अपने गांव आया था.

Kota News: कोटा में एक फौजी ने फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या (Suicide) कर ली. तीन दिन पहले उसकी मंगेतर ने भी आत्महत्या कर ली थी. फौजी की आत्महत्या का कारण अवसाद (Depression) बताया जा रहा है. पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है.

कोटा. चंबल नगरी कोटा में मंगेतर की मौत के बाद तनाव में चल रहे एक सैनिक (Soldier) ने अपने स्टेटस पर उसके नाम मैसेज लिखकर पेड़ पर लटककर आत्महत्या (Suicide) कर ली. आत्महत्या करने वाला पप्पूलाल सेना में देहरादून के कुमाऊं रेजिमेंट में पोस्टेड था. इन दिनों वह छुट्टियों में गांव आया हुआ था. सैनिक का शव चेचट थाना क्षेत्र के देवली कला गांव में रविवार को खेत में एक पेड़ पर लटका मिला. बताया जा रहा है कि फौजी की मंगेतर ने तीन दिन पहले ही आत्महत्या कर ली थी. मंगेतर की मौत के बाद फौजी अवसाद में चल रहा था. देर रात फौजी ने अपने मोबाइल स्टेटस पर लिखा था कि ”जया तुम नहीं तो मैं भी नहीं”.

जानकारी के अनुसार पप्पूलाल का स्टेटस देखकर दोस्तों ने कारण भी पूछा, लेकिन उसने कोई रिप्लाई नहीं किया. पुलिस ने मोबाइल फोन पर स्टेटस लगाने की बात की पुष्टि नहीं की है. फौजी पप्पूलाल के फोन में लॉक लगा हुआ बताया जा रहा है. मृतक फौजी की हाल ही में चित्तौड़ जिले के प्रतापनगर में जया कुमारी (20) से सगाई हुई थी. वो चित्तौड़गढ़ में सुभाष कॉलोनी में किराए पर रहती थी. वह बीएसटीसी सैकेंड ईयर की छात्रा थी. तीन दिन पहले उसने कमरे में पंखे से चुन्नी से फंदा लगाकर जान दी थी.

गांव में रविवार को चूल्हे तक नहीं जले
पुलिस को दी रिपोर्ट में मृतक के बड़े भाई ने पप्पूलाल को अवसाद में होने की बात बताई है. युवा फौजी की मौत के बाद पूरे गांव में रविवार को चूल्हे तक नहीं जले. लोगों को विश्वास नहीं हो पाया की वो इस तरह दुनिया छोड़ कर चला जाएगा. ग्रामीणों ने बताया कि पप्पूलाल अच्छे स्वभाव का था. वह जब भी गांव आता तो ग्रामीणों से देशभक्ति की बातें किया करता था.

तीन दिन पहले ही छुट्टी लेकर अपने गांव आया था
चेचट थानाधिकारी राजेन्द्र प्रसाद मीणा ने बताया की तीन दिन पहले ही पप्पूलाल छुट्टी लेकर अपने गांव आया था. वह रविवार को सुबह खेत पर जाने के लिए निकला था. थोड़ी देर बाद उसकी मौत की सूचना मिली. फिलहाल चेचट थाना पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है. दूसरी तरफ पप्पूलाल की मौत के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो रखा है.

Tags: Crime in kota, Kota News Update, Rajasthan latest news, Suicide Case

अगली ख़बर