कोटा: गहलोत कैबिनेट के मंत्रियों की भिड़ंत पर सियासत हुई तेज, वसुंधरा राजे खेमा भी हुआ सक्रिय

बीजेपी के पूर्व विधायक गुंजल ने कहा कि राजस्थान सरकार में अस्तित्व की लड़ाई चरम पर है.

बीजेपी के पूर्व विधायक गुंजल ने कहा कि राजस्थान सरकार में अस्तित्व की लड़ाई चरम पर है.

Clashed between Gehlot's ministers: गहलोत मंत्रिपरिषद् की बैठक में यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल और शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा (Shanti Dhariwal Vs Govind Singh Dotasara) के बीच हुई तकरार को लेकर बीजेपी अब उस पर निशाने साध रही है.

  • Share this:

कोटा. गहलोत मंत्रिपरिषद् की बैठक में मंत्रियों के भिड़ने (Clashed between Gehlot's ministers) की घटना के बाद कांग्रेस जहां डैमेज कंट्रोल करने में जुटी है वहीं बीजेपी (BJP) को एक बार फिर बैठे-बैठे ही सत्ता और संगठन में तालमेल नहीं होने का मुद्दा मिल गया है. इस तकरार का हिस्सा रहे यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल के गृह क्षेत्र कोटा में भी अब बीजेपी इस मुद्दे को लेकर मुखर हो रही है.

मंत्री शांति धारीवाल और शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा के बीच हुए तनाव को लेकर बीजेपी अब उस पर निशाने साध रही है. कोटा में पूर्व सीएम वसुंधरा राजे खेमे के पूर्व विधायक प्रह्लाद गुंजल ने मंत्रियों की तकरार की आड़ में सरकार पर निशाना साधा है. गुंजल ने बयान जारी कर कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाया है कि एक ओर जब प्रदेशवासी कोरोना से जंग लड़ रहे हैं तो वहीं राजस्थान सरकार में अस्तित्व की लड़ाई चरम पर है.

गहलोत सरकार सिर्फ और सिर्फ अपने आप को ही बचाने में लगी है

गुंजल ने आरोप लगाते हुए कहा की जब से राज्य में कांग्रेस की सरकार बनी है तब से आज तक इन्होंने प्रदेशवासियों की नाममात्र की भी चिंता नहीं की है. ये सरकार गठन से लेकर आज तक सिर्फ और सिर्फ अपने आप को ही बचाने में लगी है. कांग्रेस में सत्ता और संगठन की लड़ाई जगजाहिर हैं. गुंजल ने कहा कि यदि कांग्रेस अपनी सरकार बचाने से ज्यादा चिंता प्रदेशवासियों को बचाने की करती तो शायद कोरोना की दूसरी लहर राजस्थान में इतना कहर नहीं बरपाती.
मंत्री धारीवाल तीन दिवसीय दौरे पर कोटा पहुंचे

मंत्रियों में तकरार की इन सुर्खियों के बीच यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल 3 दिन के दौरे पर अपने गृह क्षेत्र कोटा पहुंच गये हैं. वे इस दौरान कोटा में चल रहे विकास के प्रोजेक्ट्स का निरीक्षण करेंगे. कोविड प्रबंधन को लेकर अधिकारियों की बैठक लेंगे. ऑक्सीजन प्लांटस के बारे में अधिकारियों से चर्चा करेंगे. इसके साथ ही वैक्सीनेशन को लेकर अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक भी करेंगे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज