अपना शहर चुनें

States

कोटा: मुकुंदरा टाइगर रिजर्व में शिकारियों ने किया 2 खरगोशों का शिकार, आग में पका रहे थे

मुकुंदरा टाइगर रिजर्व की जवाहर सागर रेंज में पहले भी शिकार की तीन घटनाएं सामने आ चुकी हैं.
मुकुंदरा टाइगर रिजर्व की जवाहर सागर रेंज में पहले भी शिकार की तीन घटनाएं सामने आ चुकी हैं.

हाड़ौती के मुकुंदरा टाइगर रिजर्व (Mukundara Tiger Reserve) में फिर शिकार करने का मामला सामने आया है. वन विभाग ने दो शिकारियों में से एक को पकड़ लिया है, जबकि दूसरा फरार हो गया.

  • Share this:
कोटा. राजस्थान में शिकारी (Hunter) बेखौफ हो रहे हैं. वे आम जंगलों के साथ ही कड़ी सुरक्षा वाले जंगलों में भी शिकार की वारदातों को अंजाम दे रहे हैं. ऐसा ही एक मामला प्रदेश के मुकुंदरा टाइगर रिजर्व (Mukundara Tiger Reserve) में सामने आया है. यहां शिकारियों ने फिर शिकार की घटना को अंजाम दिया है. टाइगर रिजर्व की जवाहर सागर रेंज में दो शिकारियों ने दो खरगोशों (Rabbits) का शिकार किया. यही नहीं शिकारियों ने उनको वहीं आग में पकाया.

वन विभाग ने नाइट पेट्रोलिंग के दौरान एक शिकारी को पकड़ लिया है. लेकिन दूसरा मौका देखकर फरार हो गया. वन विभाग उसकी तलाश कर रहा है. वन विभाग के हत्थे चढ़ा शिकारी नाबालिग है. वन विभाग ने शिकारियों के खिलाफ वाइल्डलाइफ एक्ट के तहत कार्रवाई शुरू कर दी है.

Weather update: राजस्थान में 17 दिसंबर से शीतलहर चलने की चेतावनी, कड़ाके की सर्दी पड़ेगी



रविवार रात को किया गया था शिकार
जवाहर सागर रेंज के रेंजर बिम्बाधर शर्मा के मुताबिक शिकारियों ने घटना को रविवार रात को अंजाम दिया. उस समय वन विभाग की टीम नाइट पेट्रोलिंग पर थी. इसी दौरान उन्हें रोजा का तालाब एरिया की पहाड़ी पर रोशनी दिखाई दी. रोशनी देखकर जब टीम ने मौके पर जाकर देखा तो वहां 2 शिकारी खरगोश को आग में पकाते हुए मिले. टीम ने एक शिकारी को वहीं पर दबोच लिया. लेकिन दूसरा अन्य शिकारी मौका पाकर भाग गया. शर्मा ने बताया कि शिकारियों के खिलाफ वाइल्ड लाइफ एक्ट के तहत कार्रवाई की जा रही है. शिकार के लिए शिकारियों ने डॉग का सहारा लिया था.

जवाहर सागर रेंज में शिकारी पकड़ने की यह चौथी घटना है
मुकुंदरा टाइगर रिजर्व की जवाहर सागर रेंज में पहले भी शिकार की तीन घटनाएं सामने आ चुकी हैं. 28 मार्च 2020 को जवाहर सागर रेंज के अंबा रानी एरिया से तीन शिकारी पकड़े गए थे. उनके पास से बंदूक और चौक लाडी बरामद की गई थी. 2 मई 2020 को जवाहर सागर रेंज में शिकार के तीन आरोपी बंदूक सहित पकड़े गए थे. 11 मई 2020 को जवाहर सागर रेंज में एक शिकारी को पकड़कर उससे 25000 रुपये का जुर्माना वसूला गया था. यह पूरा इलाका बूंदी जिले का हिस्सा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज