होम /न्यूज /राजस्थान /

पत्नी का भाई बनकर पति ने दूसरे मर्द से करा दी शादी, पुलिस तक पहुंचा मामला और फिर...

पत्नी का भाई बनकर पति ने दूसरे मर्द से करा दी शादी, पुलिस तक पहुंचा मामला और फिर...

चंद पैसों के लिए पति ने अपनी ही पत्नी का भाई बनकर दूसरे मर्द से करा दी शादी.

चंद पैसों के लिए पति ने अपनी ही पत्नी का भाई बनकर दूसरे मर्द से करा दी शादी.

कोटा के कुंहाड़ी इलाके में पैसे के लालच में पति ने अपनी ही पत्नी को बहन बना लिया. उसकी शादी दूसरे युवक से करवा दी और 1.80 लाख रुपये हड़प लिए. लोग रिश्तों को कलंकित करने वाली धोखाधड़ी की इस अनूठी वारदात को सुनकर आश्चर्यचकित रह गये. इस मामले का भेद खुलते ही पुलिस ने ठग दंपति और दलाल को ​गिरफ्तार कर लिया.

अधिक पढ़ें ...
कोटा. कोटा (Kota) के कुंहाड़ी इलाके में पैसे के लालच में पति ने अपनी ही पत्नी (wife) को बहन बना लिया. उसकी शादी (Marriage) दूसरे युवक से करवा दी और 1.80 लाख रुपये हड़प लिए. लोग रिश्तों को कलंकित करने वाली धोखाधड़ी की इस अनूठी वारदात को सुनकर आश्चर्यचकित रह गये. आरोपी पति ने बाकायदा अपनी पत्नी को बहन बनाकर कोर्ट में ले जाकर गवाही दी. वह शादी के नाम पर ठगी की वारदात को अंजाम देकर वह फरार होने की फिराक में थे, लेकिन दूल्हे की शिकायत पर अलर्ट हुई पुलिस ने वारदात का पर्दापाश कर दुल्हन बनी महिला व भाई बने उनके पति सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

जानकारी के मुताबिक कोटा के काली बस्ती निवासी पीड़ित ऑटो चालक रवि नागर की शादी नहीं हो रही थी. इसको लेकर वह परेशान था. पीड़ित रवि ने पिछले दिनों पड़ोसी के माध्यम से अपनी शादी करवाने के लिए देवराज से मुलाकात की. जब देवराज सुमन काे पता लगा कि रवि नागर की शादी नहीं हा़े रही है, तो उसने रवि की इंदौर में शादी करवाने की बात कही. रवि ने शादी के लिए पैसों का इंतजाम करने के लिए अपने गांव की जमीन को 2 लाख में गिरवी रख दी. बिचौलिया देवराज मुलाकात के कुछ दिन बाद ही एक रिश्ता लाया. उसने इंदौर की काेमल नाम की लकड़ी से शादी करवाने की बात कही.

20 जून को दोनों की मुलाकात हुई, जिसमें देवराज ने लड़की की कहीं भी शादी नहीं होने की जानकारी दी. उसी दिन रवि ने 1 लाख 80 हजार रुपए देवराज को दिए. देवराज ने 21 जून काे रवि को शादी के लिए कोर्ट में बुलवाया. कोर्ट में पहले से ही कोमल व उसके साथ आए लोग खड़े थे. देवराज ने दोनों की काेर्ट मैरिज करवा दी. गवाह के तौर पर काेमल का पति साेनू को भाई बनाया गया. इसके बाद घर पहुंचे और उन्होंने सात फेरे भी लिए.22 जून काे काेमल ने रवि से घूमने के लिए कहा, लेकिन रवि ने मना कर दिया.

ऐसे हुआ खुलासा

कोमल द्वारा घूमने ले जाने की जिद करने पर रवि को उसकी हरकतें संदिग्ध लगीं और उसने अपनी बहिन से बात की. बहिन ने रवि को अपने घर बुलाया. 23 जून काे कोमल को लेकर अपनी दीदी के घर कुन्हाड़ी गया. रवि की बहन ने पूछताछ की तो कोमल ने सारी बात बता दी. कोमल ने बताया कि उसकी शादी हो चुकी है. उसके दो बच्चे भी है. अभी तीन माह से गर्भवती होने की बात कही. इसपर रवि और उसकी बहन घबरा गए और उसकाे तुरंत कुन्हाड़ी थाने में ले जाकर इसकी जानकारी दी.

रवि नागर की रिपाेर्ट पर पुलिस ने 22 वर्षीय कोमल व उनके भाई बने पति 24 वर्षीय सोनू निवासी रुस्तम का बगीचा थाना एमआईजी कॉलोनी जिला इंदौर मध्यप्रदेश व
दलाल सुभाष नगर निवासी देवराज को गिरफ्तार कर लिया. आरोपी दंपति व बिचौलियों से फिलहाल पुलिस पूछताछ कर रही है. पुलिस को आशंका है कि आरोपियों ने कई ओर लोगों के साथ भी इस तरह ठगी की वारदातों को अंजाम दिया होगा.

Tags: Court Marriage, Illegal Marriage, Kota news, Kota Police, Rajasthan news, कोटा राजस्थान

अगली ख़बर