कोरोना का कहर: JEE Main की 27 से 30 अप्रैल तक होने वाली परीक्षा स्थगित

केंद्रीय शिक्षा मंत्री निशंक के ट्वीट के बाद NTA ने जेईई मेन परीक्षा का अप्रैल सेशन स्थगित करने की घोषणा की गई.

केंद्रीय शिक्षा मंत्री निशंक के ट्वीट के बाद NTA ने जेईई मेन परीक्षा का अप्रैल सेशन स्थगित करने की घोषणा की गई.

केन्द्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने रविवार को ट्वीट कर जेईई-मेन (JEE Main) का अप्रैल सेशन स्थगित करने की घोषणा की. यह परीक्षा 27, 28 और 30 अप्रैल को आयोजित होनी प्रस्तावित थी.

  • Last Updated: April 19, 2021, 12:59 AM IST
  • Share this:
कोटा. केन्द्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक के रविवार को ट्वीट कर जेईई-मेन (JEE Main) जो परीक्षा 27 से 30 अप्रैल तक प्रस्तावित थी, उसे स्थगित कर दिया गया है. इसके बाद आयोजक संस्था नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने भी इस संबंध में प्रेस रिलीज जारी कर दी गई है. नेशनल टेस्टिंग एजेंसी द्वारा जारी सूचना के अनुसार, फिलहाल परीक्षा की अगली तिथि की घोषणा नहीं की गई है, परीक्षा के आयोजन के 15 दिन पहले सूचित किया जाएगा.

एक्सपर्ट अमित आहूजा ने बताया कि अप्रैल से पूर्व दो सेशन फरवरी व मार्च में हो चुके हैं. फरवरी सेशन में 6 लाख 20 हजार 978 तथा मार्च सेशन में 5 लाख 56 हजार 248 विद्यार्थी परीक्षा में शामिल हुए थे. 27 से 30 अप्रैल तक परीक्षा प्रस्तावित थी, जिसे स्थगित कर दिया गया है. आगामी परीक्षा की तिथि आयोजन से 15 दिन पहले सूचित की जाएगी. परीक्षा के इस स्थगन के बाद विद्यार्थियों में असमंजस है. सबसे बड़ी बात यह कि आने वाले मई माह में यह परीक्षा प्रस्तावित है. अब अप्रैल की स्थगित परीक्षा को मई में करवाना संभव प्रतीत नहीं होता.

यदि JEE Mains परीक्षा जून में करवाई जाती है तो 3 जुलाई को जेईई-एडवांस्ड प्रस्तावित है. जेईई-मेन और जेईई-एडवांस के बीच कम से कम 20 दिन का अंतराल होना चाहिए. क्योंकि जेईई-एडवांस की आवेदन प्रक्रिया, एडमिट कार्ड की घोषणा जेईई-मेन के परिणामों के बाद होगी. इसलिए दोनों परीक्षाओं के बीच इतना अंतराल होगा. ऐसे में जून में जेईई-मेन करवाने की स्थिति में जेईई-एडवांस की परीक्षा तिथियों पर फर्क करना स्वभाविक है.

आहूजा ने बताया कि जून व जुलाई में जेईई-मेन और जेईई-एडवांस्ड के साथ-साथ बोर्ड की परीक्षाएं भी आयोजित होना प्रस्तावित हैं. दो माह में परीक्षाओं का भार स्टूडेंट्स पर आ सकता है. ऐसे में जेईई मेन की परीक्षा तिथियों को बोर्ड की परीक्षा तिथियों को अलग-अलग रखना जरूरी होगा. स्टूडेंट्स को परीक्षाओं की अच्छी तैयारी समय रहते करनी चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज