कोटा नगर विकास न्यास ने अतिक्रमण मुक्त कराई करोड़ों की जमीन

कोटा नगर विकास न्यास ने क्रेशर बस्ती में करोड़ों रुपए की जमीन अतिक्रमण मुक्त कराई. कोर्ट के लिए आवंटित इस 16 हेक्टेयर जमीन पर पिछले चंद दिनों में ही 100 से अधिक मकान का निर्माण हो गया था.

ETV Rajasthan
Updated: February 15, 2018, 2:26 PM IST
कोटा नगर विकास न्यास ने अतिक्रमण मुक्त कराई करोड़ों की जमीन
सरकारी जमीन से अतिक्रमण हटाता यूआईटी का जेसीबी
ETV Rajasthan
Updated: February 15, 2018, 2:26 PM IST
कोटा नगर विकास न्यास (यूआईटी) ने अतिक्रमण के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए क्रेशर बस्ती में करोड़ों रुपए की जमीन को अतिक्रमणमुक्त करवाया. दरअसल यह 16 हेक्टेयर जमीन कोर्ट के लिए आवंटित की गई है जिस पर पिछले चंद दिनों में  ही 100 से अधिक मकान का निर्माण हो गया. शिकायत मिलने के बाद सचिव के निर्देश पर तहसीलदार इमामुद्दीन खान के नेतृत्व में भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा और जेसीबी की सहायता से इन अतिक्रमणों को धराशायी किया.

अचानक हुई इस कार्रवाई से बस्ती में हड़कंप मच गया और बड़ी संख्या में अतिक्रमण करने वाले वहां एकजुट होकर कार्रवाई पर नाराजगी जताने लगे. इस दौरान अतिक्रमण करने वालों ने विरोध भी किया और यूआईटी के सर्वे की रसीद, भाजपा विधायक संदीप शर्मा, सांसद ओम बिरला के लिखे हुए पत्र को भी दिखाया लेकिन अधिकारियो ने समझा करके उन्हे हटा दिया और मकान को ध्वस्त कर दिया. इस दौरान एक बच्चे के हाथ में चोट लग गई.

नाराज अतिक्रमणकारियों ने विधायक और सांसद के खिलाफ नारेबाजी करके गुस्सा जाहिर किया. अतिक्रमणकारियों ने आरोप जड़ा कि कार्रवाई के दौरान दस्ते ने उन्हे मकान में रखा हुआ सामान भी नही निकालने दिया और जेसीबी से पूरा सामान मकान के मलबे में दबा दिया. (रिपोर्ट- सचिन)

 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर