अपना शहर चुनें

States

कोटा: नवजात बच्चे को बोरी में कसकर सुनसान जगह पर फेका, ठंड से मौत की आशंका

पुलिस ने अज्ञात महिला के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. (सांकेतिक तस्वीर)
पुलिस ने अज्ञात महिला के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. (सांकेतिक तस्वीर)

मामला कोटा के कुल्हाड़ी के पास का है. कहा जा रहा है कि सोमवार को सुनसान इलाके में एक खुले हुए कट्‌टे (बोरी) में नवजात बच्चे (Child) की लाश मिली थी.

  • Share this:
कोटा. राजस्थान के कोटा (Kota) में मानवता को शर्मसार करने वाली एक खबर सामने आई है, जहां पर बोरी में बंद एक नवजात बच्चे की लाश (Newborn Baby Death) मिली है. इस घटना से आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई है. वहीं, सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. साथ ही पुलिस को शंका है कि किसी ने जिंदा बच्चे को बोरी में कसकर सुनसान जगह पर छोड़ दिया. ऐसे में ठंड की वजह से उसकी मौत हो गई. वहीं, बच्चे के शव का पोस्टमार्टम (Post Mortem) कराया गया है, ताकि उसकी मौत को लेकर सही समय का पता लगाया जा सके.

जानकारी के मुताबिक, मामला कोटा के कुल्हाड़ी के पास का है. कहा जा रहा है कि सोमवार को सुनसान इलाके में एक खुले हुए कट्‌टे (बोरी) में नवजात बच्चे की लाश मिली थी. वही, सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने बताया कि एक राहगीर ने कट्‌टे में नवजात का शव देखा. इसके बाद हमे सूचना दी गई.  पुलिस ने नवजात के बारे में आसपास पूछताछ की लेकिन कुछ पता नहीं चला. इसके बाद नवजात के शव को मोर्चरी में रखवा दिया. पुलिस का कहना है कि नवजात की मौत के बाद उसे यहां छोड़ा गया है या फिर जिंदा छोड़ा गया है. पोस्टमार्टम के बाद यह स्पष्ट हो पाएगा. फिलहाल, पुलिस ने अज्ञात महिला के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है.

बच्चों की मौत के आंकड़ों से ये खुलासा हुआ है
वहीं, बीते दिनों खबर आई थी कि राजस्थान के कोटा में शिशुओं की मौत के चिंताजनक आंकड़े सामने आए हैं. एक रिपोर्ट के मुताबिक, जेकेक लोन अस्‍पताल में नियोनेटल (0) से 28 दिन के नवजात शिशु) डेथ रेट राष्‍ट्रीय औसत से भी ज्यादा है. यहां भर्ती हाेने वाले 18 से 20 प्रतिशत नवजात की मौत हो रही है, जबकि भारत में इसका औसत 16 प्रतिशत तक है. वह भी तब, जब बच्चे आउटबॉर्न यानी बाहर जन्म लेने के बाद संबंधित अस्पताल पहुंचे हों. अस्पताल में पिछले तीन साल में बच्चों की मौत के आंकड़ों से ये खुलासा हुआ है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज