कोटा रेल मंडल ने 60 वर्षों का रिकॉर्ड तोड़ा, एक महीने में की 655 वैगनों की मरम्मत

कोटा रेल मंडल ने बेटिकट यात्रियों से जुर्माना वसूलने का भी रिकॉर्ड बनाया.

माल डिब्बा कारखाना कोटा ने 60 वर्षों के इतिहास में एक महीने में उत्पादित वैगनों की अधिकतम संख्या का रिकॉर्ड बनाते हुए जून 2021 में कुल 655 वैगनों की मरम्मत करके नया कीर्तिमान स्थापित किया है.

  • Share this:
कोटा. कोरोना काल में कोटा रेल मंडल लगातार इतिहास रच रहा है. जहां एक ओर बिना टिकट यात्रा करने वालों से लाखों का जुर्माना वसूल कर रेल मंडल ने राजस्व में इजाफे का कीर्तिमान स्थापित किया है, वहीं माल डिब्बा कारखाना कोटा ने 60 वर्षों के इतिहास में एक महीने में उत्पादित वैगनों की अधिकतम संख्या का रिकॉर्ड बनाते हुए जून 2021 में कुल 655 वैगनों की मरम्मत करके नया कीर्तिमान स्थापित किया है. यह उपलब्धि इसलिए और भी विशिष्ट हो जाती है कि कोविड-19 के दौरान कारखाने को अपनी जरूरत की केवल 65% ऑक्सीजन आपूर्ति मिल सकी. कारखाने की इस उपलब्धि पर पमरे के प्रमुख मुख्य यांत्रिक अभियंता आरएस सक्सेना और मुख्य कारखाना अभियंता एसके जैन ने कर्मचारियों के प्रयासों की सराहना करते हुए बधाई दी है.

वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक अजय कुमार पाल ने बताया कि इसमें 322 वैगन, टैंक वैगन श्रेणी के ओवरहालिंग की गई और यह भी किसी एक महीने में इस श्रेणी में निकाले गए अधिकतम वैगन हैं. इसके कारण देशभर में पेट्रोलियम पदार्थों एलपीजी गैसों की सुचारू उपलब्धता सुनिश्चित करने में सहायता मिली है. क्योंकि लॉकडाउन और अन्य यातायात संबंधी प्रतिबंधों के कारण सड़क मार्ग से परिवहन सुचारू नहीं हो पा रहा था. इसके अलावा कारखाने के द्वारा रेलवे के विभागीय वैगनों (जिनको बॉबी-एन वैगन कहा जाता है) का भी एक पूरा का पूरा 59 वैगनों का रैक इस माह ओवरहाल किया गया है. 2 वर्षों में मुख्य कारखाना प्रबंधक मनीष कुमार गुप्ता के नेतृत्व और मार्गदर्शन में कई कीर्तिमान वैगन वर्कशॉप ने हासिल किए हैं. इस प्रतिमान को हासिल करने में उप मुख्य यांत्रिक इंजीनियर सोहन सिंह परमार, सहायक कारखाना प्रबंधक विशाल कुमार गुप्ता, कारखाने के पर्यवेक्षक बजरंग लाल मीणा, संजय दाधीच और प्रद्युम्न की भूमिका सराहनीय रही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.