कोटा कलेक्टर के चैंबर में धरने बैठे विधायक मदन दिलावर, कहा- डॉक्टर लेकर ही जाऊंगा

धरने पर बैठे बीजेपी विधायक.

धरने पर बैठे बीजेपी विधायक.

राजस्थान (Rajasthan) में भाजपा विधायक (BJP MLA) व पार्टी के प्रदेश महामंत्री मदन दिलावर ने रामगंजमंडी विधानसभा में इलाज के अभाव में 750 लोगों की मौत होने को लेकर सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं.

  • Share this:

कोटा. राजस्थान (Rajasthan) में भाजपा विधायक (BJP MLA) व पार्टी के प्रदेश महामंत्री मदन दिलावर ने रामगंजमंडी विधानसभा में इलाज के अभाव में 750 लोगों की मौत होने को लेकर सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं. विधायक ने उनके विधानसभा इलाके में मेडिकल संसाधनों, डाक्टरों, पैरामेडिकल स्टाफ की नियुक्ति सरकार से जल्द करने की मांग करते हुए कोटा कलेक्टर उज्जवल राठौड के ऑफिस में हंगामा किया. इतना ही नहीं वे कोटा दक्षिण नगर निगम के दो पार्षदों के साथ घंटों कलेक्टर ऑफिस में धरना दिया. जैसे ही दिलावर धरने पर बैठे, जिला प्रशासन हरकत में आया. प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी कलेक्टर के चैंबर में धरने पर बैठे दिलावर को उठाने के लिए पहुंचे, मगर दिलावर नहीं माने.

करीब एक घंटे से अधिक उनका धरना जारी रहा. दिलावर ने आरोप लगया कि सरकार की लापरवाही के चलते इलाज के अभाव में मेरी विधानसभा में 750 लोग अकाल मौत के मुंह में समा गए. मैं जनप्रतिनिधि होने के नाते उनके प्राणों की रक्षा के लिए भाग दौड़ करता आ रहा हूं, लेकिन सरकार ने मेरी सुनवाई नहीं की. अब मेरे पास कोई रास्ता नहीं बचा है. इसलिए कलेक्टर के चैंबर में धरना दे रहा हूं. दिलावर ने कहा कलेक्टर व सरकार से कुछ नहीं चाहिए, वह केवल डॉक्टर, पैरामेडिकल स्टाफ लेने आए हैं. मेरे विधानसभा में लोग मर रहे हैं. डॉक्टर लेकर कलेक्टर के चैंबर से जाउंगा. इन मांगों के लिए वो अड़े रहे.

कलेक्टर ने मानी बात, मिला फायदा

कलेक्टर उज्जवल राठौड़ भी दिलावर को समझाते रहे. कलेक्टर के चैंबर में विधायक दिलावर द्वारा धरना देने का मामला राज्य सरकार तक पहुंचा. कलेक्टर ने प्रमुख शासन सचिव चिकित्सा से बात की और दिलावर से भरोसा दिलाया कि उनकी लगभग सभी मांगों को स्वीकार करते हुए आदेश जारी करने को कहा गया. डॉक्टरों की मांग पर चिकित्सा सचिव ने आश्वस्त किया 30 मई को 30 नए डॉक्टर कोटा जिले में लगाए जाएंगे. 1 जून को वह उपस्थिति देंगे. डॉक्टरों की नियुक्ति में रामगंजमंडी विधानसभा क्षेत्र को प्राथमिकता दी जा रही है. इसके अलावा 863 नर्सिंगकर्मी भी नियुक्त होंगे. 21 नर्सिंगकर्मी तत्काल प्रभाव से रामगंजमंडी में नियुक्त कर दिए गए हैं. 49 ऑक्सीजन कंसट्रेटर भी रामगंजमंडी को दिए जा रहे हैं. कलेक्टर ने कहा कि 100 सिलेंडर क्षमता का ऑक्सीजन प्लांट रामगंजमंडी चिकित्सालय के लिए स्वीकृत कर दिया गया है. यह सब आदेश की कॉपी कलेक्टर ने विधायक मदन दिलावर के हाथ में सौंपी. साथ कुछ डॉक्टरों की प्रतिनियुक्तियां आज ही निरस्त कर दी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज