Home /News /rajasthan /

छात्रसंघ चुनावों को लेकर कोटा में सरगर्मियां हुईं तेज, NSUI ने फूंका चुनावी बिगुल

छात्रसंघ चुनावों को लेकर कोटा में सरगर्मियां हुईं तेज, NSUI ने फूंका चुनावी बिगुल

एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष राकेश मीणा, रंजू रामावत, जहाजपुर विधायक धीरज गुर्जर के साथ पूर्वमंत्री शांति धारीवाल, कांग्रेस जिलाध्यक्ष पंडित गोविन्द शर्मा समेत बड़ी तादाद में जुटे कांग्रेस के नेता. फोटो-(ईटीवी)

एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष राकेश मीणा, रंजू रामावत, जहाजपुर विधायक धीरज गुर्जर के साथ पूर्वमंत्री शांति धारीवाल, कांग्रेस जिलाध्यक्ष पंडित गोविन्द शर्मा समेत बड़ी तादाद में जुटे कांग्रेस के नेता. फोटो-(ईटीवी)

अगस्त अंत में प्रस्तावित छात्रसंघ चुनावों को लेकर कोटा में सरगर्मियां तेज हो गई हैं. कांग्रेस से जुड़े छात्र संगठन एनएसयूआई ने मंगलवार को कोटा में एक बड़ा जलसा करके चुनावी तैयारियों का बिगुल फूंक डाला.

    अगस्त अंत में प्रस्तावित छात्रसंघ चुनावों को लेकर कोटा में सरगर्मियां तेज हो गई हैं. कांग्रेस से जुड़े छात्र संगठन एनएसयूआई ने मंगलवार को कोटा में एक बड़ा जलसा करके चुनावी तैयारियों का बिगुल फूंक डाला.

    एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष राकेश मीणा, रंजू रामावत, जहाजपुर विधायक धीरज गुर्जर के साथ पूर्वमंत्री शांति धारीवाल, कांग्रेस जिलाध्यक्ष पंडित गोविन्द शर्मा समेत बड़ी तादाद में जुटे कांग्रेस नेताओं ने पहले एक बड़े जलसे को संबोधित किया और बाद में छात्र संगठन की छात्र जागृति यात्रा को हरी झंडी दिखाकर रवानगी दी गई.

    इस दौरान आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि ऊपर से तय होकर आने के बजाय केन्डीडेट स्थानीय स्तर पर नेताओं की राय से तय होना चाहिए और कोटा में तो छात्रसंघ चुनावों में कांग्रेस के दबदबे का इतिहास रहा है.

    धारीवाल ने केवल 250 छात्रों वाला संगठन बताकर कोटा विवि में एबीवीपी का छात्रसंघ अध्यक्ष चुने जाने का भी मखौल उड़ाया और कहा कि कोटा विश्वविद्यालय तो आरएसएस विचारधारा का गढ़ बन चुका है और वहां वीसी से लेकर शिक्षकों तक में विचारधारा विशेष के ही प्रभाव में नजर आते हैं.

    Tags: Congress, Kota news, Nsui

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर