Assembly Banner 2021

यूपी की तर्ज पर कोटा में भी कुख्यात के मकान पर चला बुलडोजर, ड्रोन कैमरा तैनात कर जमींदोज की अवैध संपत्ति

कोटा पुलिस ने अपराधी के निर्माणाधीन मकान को ध्वस्त कर दिया.

कोटा पुलिस ने अपराधी के निर्माणाधीन मकान को ध्वस्त कर दिया.

राजस्थान के कोटा में कुख्यात बदमाशों पर शिकंजा कसने और आम लोगों के बीच पुलिस का भरोसा जगाने के लिए प्रशासन ने की कार्रवाई. हिस्ट्रीशीटर अपराधी सुनील पांचाल का निर्माणाधीन मकान ध्वस्त कर डाला.

  • Share this:
कोटा. राजस्थान में अपराध की रोकथाम और अपराधियों पर नकेल कसने के लिए पुलिस ने अब उत्तर प्रदेश की तर्ज पर कार्रवाई करना शुरू कर दिया है. यूपी में जिस तरह कुख्यात और हिस्ट्रीशीटर बदमाशों की अवैध संपत्ति ढहाने की कार्रवाई सरकार कर रही है, ठीक उसी तरह कोटा में भी आज हिस्ट्रीशीटर की हत्या के आरोपी बदमाश सुनील पांचाल की अवैध संपत्ति ढहा दी गई. कोटा पुलिस के 150 से ज्यादा जवानों का भारी-भरकम दस्ता आज सुबह रोझड़ी इलाके में पहुंचा और वहां सुनील पांचाल की निर्माणाधीन इमारत को बुलडोजर से ढहा दिया गया. पुलिस के मुताबिक सुनील पांचाल ने दो दिन पहले ही एक हिस्ट्रीशीटर बदमाश की गोली मारकर हत्या कर दी थी.

आम जन के बीच विश्वास और अपराधियों में भय के नारे को साकार करने में जुटी पुलिस ने आज यह कार्रवाई की. पुलिस के मुताबिक बदमाश सुनील पांचाल 5000 का इनामी बदमाश है. वह 2 दिन पहले गोबरिया इलाके में हिस्ट्रीशीटर जीतू टेंशन की गोली मारकर हत्या कर फरार हो गया था. पुलिस उसकी तलाश कर रही है, लेकिन अभी तक उसका सुराग नहीं मिल पाया है. ऐसे में पुलिस ने बदमाश पर दबिश के लिए उसकी संपत्ति को ध्वस्त करने का तरीका आजमाया. वन विभाग और पुलिस की संयुक्त कार्रवाई के दौरान पूरे रोझड़ी इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया गया. पुलिस ने बताया कि सुनील पांचाल रोझड़ी इलाके में अवैध कब्जा कर मकान का निर्माण करा रहा था. इसकी सूचना मिलने पर यह कार्रवाई की गई.

पुलिस की कार्रवाई के दौरान घरों में दुबके रहे लोग
बदमाश सुनील पांचाल के मकान को ध्वस्त करने की कार्रवाई के दौरान इलाके के लोग अपने घरों में ही दुबके रहे. किसी भी तरह के हंगामे से बचने के लिए पुलिस ने सुरक्षा का चौकस इंतजाम किया था. आरएसी और ब्लैक कमांडो सहित करीब 150 जवान तैनात थे. यहां तक कि पुलिस ने ड्रोन कैमरे के जरिए पूरे इलाके की छानबीन कराई और मकान ढहाने की वीडियोग्राफी भी कराई गई.
एसपी ने कहा- हाड़ोती के बाद दूसरी कार्रवाई


कोटा के एसपी प्रवीण जैन ने बताया कि बदमाशों पर लगाम लगाने के लिए पुलिस ने दूसरी बार ऐसी कार्रवाई की है. इससे पहले गुमानपुरा इलाके में बदमाश असलम चिंटू के मकान को भी इसी प्रकार ध्वस्त किया गया था. उसके बाद कुछ ही दिनों बाद असलम चिंटू की गिरफ्तारी हो गई थी. यूपी की तर्ज पर बदमाशों में खौफ पैदा करने के लिए कोटा पुलिस का यह तरीका चर्चा का विषय बना हुआ है. बहरहाल, पुलिस की कार्रवाई को देख लोगों में उम्मीद बनी है कि अब बदमाशों में खौफ पैदा होगा और खाकी के प्रति विश्वास मजबूत होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज