अपना शहर चुनें

States

Kota: पुलिस जुटी अपराधियों की कुंडली बनाने में, इस मेगा प्लान को दिया जा रहा है अंजाम

पुलिस ने ऐसे लगभग 1300 बदमाशों की लिस्ट तैयार की है.
पुलिस ने ऐसे लगभग 1300 बदमाशों की लिस्ट तैयार की है.

कोचिंग सिटी कोटा (Kota) को अपराध मुक्त करने के लिये पुलिस ने अब कमर कस ली है. इसके लिये अपराधियों का पूरा डेटा तैयार किया जा रहा है. पुलिस ने 1300 बदमाशों (criminals) की सूची तैयार कर ली है.

  • Share this:
कोटा. कोचिंग सिटी कोटा में अपराधों (Crimes) पर नकेल कसने के लिए पुलिस अब अपराधियों की कुंडली (Horoscope) तैयार कर रही है. शहर में पिछले 5 साल में चाकूबाजी और वाहन चोरी सहित अन्य अपराधिक घटनाओं घटनाओं को अंजाम देने वाले अपराधियों का डाटाबेस (Database) तैयार किया जा रहा है. इन बदमाशों को थाने बुलाकर समझाइश की जा रही है. नहीं सुधारने पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी भी दी जा रही है. कोटा पुलिस (Police) ने इस मिशन के तहत जेल से बाहर निकले अपराधियों की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए हर थाने में पुलिसकर्मियों को जिम्मेदारी सौंपी है.

सिटी एसपी विकास पाठक ने बताया कि बीते 5 साल में जिस भी अपराधी पर 3 से अधिक आपराधिक के मामले चल रहे हैं उन सभी बदमाशों की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए एक सूची बनाई जा रही है. इन अपराधियों पर पुलिस कड़ी नजर रख रही है. पुलिस ने ऐसे लगभग 1300 बदमाशों की लिस्ट तैयार की है. इस लिस्ट में हिस्ट्रीशीटर बदमाशों को शामिल नहीं किया गया है.

झालावाड़: BJP के पूर्व MLA कंवरलाल मीणा को 3 साल की जेल और जुर्माने की सजा, SDM पर तानी थी रिवॉल्वर

थाने बुलाकर किया जा रहा है डेटाबेस तैयार


कोटा में बीते कई दिनों से लगातार बढ़ रही चाकूबाजी और वाहन चोरी सहित अन्य वारदातों के मद्देनजर पुलिस ने यह कदम उठाया है. इसके तहत पुलिस चिन्हित किए गए सभी बदमाशों पर नजर रखने के लिए उन्हें थाने बुलवा रही है. उनका एक फॉर्म भरा जा रहा है. इसमें उनकी पूरी डिटेल भरी जा रही है. यथा वे फिलहाल किस वाहन का उपयोग कर रहे हैं. क्या काम कर रहे हैं. यही नहीं फोन के माध्यम से उनके फिंगर प्रिंट भी लिए जा रहे हैं ताकि अपराधियों में इस बात का भय रहे कि पुलिस के पास उनके बारे में पूरी डिटेल है.

शहर के प्रत्येक थाने के पुलिसकर्मी को सौंपी जिम्मेदारी
कोटा पुलिस ने इसके तहत शहर के सभी थानों के पुलिसकर्मियों को अपराधियों पर नजर रखने की जिम्मेदारी सौंपी है. समय-समय पर उनसे अपराधियों की गतिविधियों के बारे में जानकारी ली जायेगी. शातिर अपराधियों और बदमाशों के लिए अलग कैटेगरी में डाटाबेस तैयार किया जा रहा है. उन पर विशेष नजर रखने के भी शहर एसपी विकास पाठक ने निर्देश दिए हैं.

अवैध हथियार रखने वालों पर भी कसा जा रहा है शिकंजा
अपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगाने और अवैध हथियारों की धरपकड़ के लिए भी पुलिस ने विशेष अभियान चला रखा है. इसके तहत कोटा की स्पेशल ब्रांच की पुलिस टीमें लगातार जेल से बाहर निकले शातिर अपराधियों और अपराधों में लिप्त बदमशों की धरपकड़ कर उनके पास से हथियार बरामद कर उनको सलाखों के पीछे पहुंचा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज