Home /News /rajasthan /

power crisis in rajasthan kota thermal power plant 210 mw number 3 unit to be start soon check details rjsr

बिजली संकट के बीच राहत की बड़ी खबर, जल्द शुरू होगी कोटा थर्मल की 210 मेगावाट की 3 नंबर यूनिट

राजस्थान में बिजली संकट काफी गहरा गया है.

राजस्थान में बिजली संकट काफी गहरा गया है.

राजस्थान में बिजली संकट: बिजली संकट (Power crisis) से जूझ रहे राजस्थान के लिये बड़ी खबर सामने आई है. कोटा थर्मल पावर प्लांट (Kota Thermal Power Plant) की बंद पड़ी 210 मेगावाट क्षमता वाली यूनिट नंबर-3 को जल्द ही शुरू कर दिया जायेगा. इसके मेंटेनेंस का कार्य तेजी के साथ चल रहा है. बिजली संकट को देखते हुये राजस्थान राज्य विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड के अधिकारियों और कर्मचारिेयों के बिना अनुमति के मुख्यालय छोड़ने पर भी पाबंदी लगा दी गई है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

राजस्थान में चल रही है घोषित बिजली कटौती
राजस्थान में बिजली के लिये मचा है हाहाकार

जयपुर. राजस्थान सहित पूरे देश में चल रहे बिजली संकट (Power crisis) के बीच राहत की बड़ी खबर आई है. राजस्थान के कोटा में ब्रेकडाउन के चलते बंद पड़ी कोटा थर्मल पावर प्लांट (Kota Thermal Power Plant)  की 3 नंबर यूनिट को जल्द शुरू करके बिजली उत्पादन किया जायेगा. राजस्थान राज्य विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड के सीएमडी आरके शर्मा ने ईकाई के मेंटिनेंस कार्य का जायजा लेने के लिए कोटा थर्मल का शनिवार को औचक निरिक्षण किया. शर्मा ने प्रदेश में चल रहे बिजली संकट को देखते हुये निगम कर्मचारियों को बिना अनुमति मुख्यालय छोड़ने पर भी पाबंदी लगा दी है. अगर सबकुछ ठीकठाक रहा तो जल्द ही कोटा थर्मल की 3 नंबर इकाई से उत्पादन शुरू हो जायेगा.

कोटा थर्मल का औचक निरिक्षण करने के बाद शर्मा ने बताया कि ब्रेकडाउन में चल रही 210 मेगावाट क्षमता की यूनिट 3 के मेंटेनेंस कार्यों और रिवाइवल प्लान पर इंजीनियरों से चर्चा कर उन्हें इसे जल्द शुरू करने के निर्देश दिये गये हैं. इस यूनिट के जल्द संचालन के लिये मेंटेनेंस कार्यों को युद्धस्तर पर पूरा किया जा रहा है ताकि इस यूनिट से अविलम्ब बिजली उत्पादन शुरू किया जा सके.

अधिकारी-कर्मचारी बिना अनुमति नहीं छोड़ सकेंगे मुख्यालय
निरीक्षण के दौरान सीएमडी शर्मा ने ये भी निर्देश दिए गए कि प्रदेश में बिजली की उपलब्धता में आ रही परेशानियों को देखते हुये निगम के अधिकारी और कर्मचारी मुख्यालय नहीं छोड़ें. आवश्यक होने पर विशेष अनुमति से वे मुख्यालय छोड़ सकेंगे. अन्यथा प्रबंधन इस पर गंभीर कार्रवाई करेगा.

अनवरत बिजली उत्पादन सुनिश्चित करने के निर्देश
उन्होंने सभी अभियंताओं को निर्देश दिये हैं कि जिन इकाइयों से अभी विद्युत उत्पादन जारी है उनकी लगातार पूरी मॉनिटरिंग की जाए ताकि अनवरत बिजली उत्पादन सुनिश्चित किया जा सके. इसके साथ ही विद्युत गृहों में बिजली का अपव्यय रोकने के लिये कार्यालय समय के दौरान आवश्यकतानुसार विद्युत उपकरणों का मितव्ययतापूर्वक उपयोग किया जाये.

राजस्थान में बिजली संकट काफी गहरा गया है
उल्लेखनीय है कि बिजली संकट को लेकर सीएम अशोक गहलोत ने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि बंद पड़ी इकाइयों को शीघ्र शुरू करवाया जाए. राजस्थान में बिजली संकट काफी गहरा गया है. इसके चलते राजधानी जयपुर समेत पूरे प्रदेश में घोषित रूप से बिजली कटौती की जा रही है. जिला मुख्यालयों और ग्रामीण इलाकों में अलग-अलग समय पर बिजली काटी जा रही है.

Tags: Ashok Gehlot Government, Kota news, Power Crisis, Rajasthan news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर