राजस्थान: कोटा में अचानक मरकर जमीन पर गिरने लगे कौए, बर्ड फ्लू फैलने की आशंका

उन्होंने कहा कि ऐसे में बर्ड फ्लू फैलने की आशंका कस्बे में बनी हुई है. (सांकेतिक फोटो)

उन्होंने कहा कि ऐसे में बर्ड फ्लू फैलने की आशंका कस्बे में बनी हुई है. (सांकेतिक फोटो)

Rajasthan Bird Flu: भाजपा के नेता वीरेंद्र जैन (BJP leader Virendra Jain) ने बर्ड फ्लू की आशंका जताते हुए पशुपालन विभाग, वन विभाग, उपखंड प्रशासन पर घोर लापरवाही का आरोप लगाया है.

  • Share this:

कोटा. कोटा जिले के रामगंजमंडी कस्बे (Ramganjmandi Town) में बर्ड फ्लू (Bird Flu) को लेकर कस्बे के लोग भयभीत हैं. पिछले 2 दिनों से कस्बे में कौओं की मौत (Death Of Crows) के मामले सामने आ रहे हैं. मौत के बाद कौओं के शव नहीं उठाने पर आज लोगों ने रामगंजमंडी विधायक मदन दिलावर व लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला तक मामले की शिकायत की. इसके बाद जाकर स्थानीय उपखंड प्रशासन हरकत में आया. नगर पालिका प्रशासन व पशुपालन विभाग की टीमों ने रेलवे कॉलोनी, अदालत परिसर, इंद्रप्रस्थ एरिया और स्टेशन के पास वाले इलाके में से कौओं के शव उठाए.

इसके बाद आसपास सोडियम हाइपोक्लोराइड़ का छिड़काव करते हुए पूरे इलाके को सैनिटाइज किया गया. इधर भाजपा के नेता वीरेंद्र जैन ने स्थानीय प्रशासन पर बर्ड फ्लू की आशंका जताते हुए पशुपालन विभाग, वन विभाग, उपखंड प्रशासन पर घोर लापरवाही का आरोप लगाया है. जैन का कहना है कि पिछले 2 दिनों से लगातार कौओं की मौत रामगंजमंडी कस्बे में हो रही है. लेकिन जिस तरह की कार्रवाई पशुपालन विभाग, वन विभाग और स्थानीय उपखंड प्रशासन कर रहा है, वह नाकाफी है.

संक्रमण पहुंचने की पूरी आशंका है

उन्होंने कहा कि ऐसे में बर्ड फ्लू फैलने की आशंका कस्बे में बनी हुई है, क्योंकि पिछले 2 दिनों में मरे पड़े कौओं के शवों को नहीं उठाया गया. जबकि तत्काल कार्रवाई करते हुए मृत कौओं के शव उठाने चाहिए था. उक्त स्थान को सैनिटाइज करना चाहिए था. पशुपालन विभाग, वन विभाग में समन्वय की कमी होने के कारण एक दूसरे पर जिम्मेदारी को थोपा जा रहा है. जो जिंदा कौवे हैं बीमार हैं उनका इलाज नहीं किया जा रहा है. पशुपालन विभाग के डॉक्टर कह रहे हैं कि वन विभाग बीमार हुए कौओं को संभाले और उन्हें सुपुर्द करे. उसके बाद ही वे इलाज करेंगे. ऐसे में भाजपा नेता वीरेंद्र जैन ने आशंका व्यक्त की है कि अगर समय पर बर्ड फ्लू पर रोकथाम नहीं लगाई गई, तो यह संक्रमण इंसानों को भी अपनी चपेट में ले सकता है, क्योंकि कई कौओं के पड़े हुए थे. उन्हें जानवरों ने नोचा है. ऐसे में उन्हें भी संक्रमण पहुंचने की पूरी आशंका है. (रिपोर्ट- अर्जुन अरविंद)

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज