Kota News: ट्रेन में चोरों का धावा, यात्रियों के पर्स, मोबाइल और अन्य सामान किया पार

ट्रेन के सवाईमाधोपुर पहुंचने पर रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) में इसकी शिकायत दर्ज करवाई गई है.

ट्रेन के सवाईमाधोपुर पहुंचने पर रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) में इसकी शिकायत दर्ज करवाई गई है.

हिसार-कोटा ट्रेन (Hisar-Kota Train) में चोरों ने धाव बोलकर कई यात्रियों के पर्स और मोबाइल पार कर लिये. कोरोना में तमाम सुरक्षा व्यवस्था को धत्ता बताते हुये चोर (Thief) ट्रेनों में पहुंच रहे हैं.

  • Share this:

कोटा. कोरोना काल में ट्रेनों में चोरी (Theft) की घटनाएं थम नहीं रही हैं. हिसार-कोटा ट्रेन (Hisar-Kota Train) में सवाईमाधोपुर के पास चोरों ने धावा बोलकर आधा दर्जन से अधिक यात्रियों का सामान पार लिया. यात्रियों ने कोटा राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) में मामला दर्ज करवाया है. कोटा मंडल में भी कोरोना काल में चलती ट्रेन में चोरी के कई मामले सामने आ चुके है. स्टेशन पर केवल आरक्षित टिकटधारियों को ही प्रवेश दिया जा रहा है. इसके बाद भी चोर आसानी से ट्रेनों में पहुंच रहे हैं.

चूरू निवासी सुभाष प्रजापति ने बताया कि वह रामगंजमंडी में अध्यापक है. ड्यूटी पर आने के लिए वह अपनी पत्नी के साथ शुक्रवार शाम को सादुलपुर स्टेशन से हिसार-कोटा ट्रेन में सवार हुए थे. एस-5 कोच में दरवाजे के पास उनकी दे सीटें बुक थीं. रात करीब 2.15 बजे ट्रेन सवाईमाधोपुर के पास ईसरदा स्टेशन पर रुकी थी. यहां से ट्रेन रवाना होते समय एक चोर उनकी पत्नी कौशल्या के सिर के नीचे रखा लेडिज पर्स खींचकर चलती गाड़ी से कूदकर फरार हो गया. पर्स खींचे जाने का पत्नी को तुरंत पता चल गया. कौशल्या ने कई कोचों और शौचालय में चोर को तलाश किया. चैन पुलिंग कर ट्रेन को रोका भी गया. लेकिन चोर का कहीं पता नहीं चला. सुभाष ने बताया कि पर्स में करीब 60 हजार रुपए कीमत का एक मंगलसूत्र, एक मोबाइल और कुछ जरुरी कागजात थे.

अन्य यात्रियों का भी सामान हुआ पार

सुभाष ने बताया कि चोर की तलाश के दौरान अन्य कई यात्रियों ने भी चोरी होने की जानकारी दी. एस-5 कोच के एक यात्री ने मोबाइल चोरी होने की बात बताई एक अन्य यात्री ने भी पर्स चोरी होने की जानकारी दी. सुभाष ने बताया कि बाद में ट्रेन सवाईमाधोपुर पहुंचने पर रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) में शिकायत दर्ज करवाई गई. सुभाष ने बताया कि ट्रेन शनिवार सुबह कोटा पहुंचने पर जीआरपी थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई गई. यहां पर पुलिस ने जीरो नंबर की एफआईआर दर्ज की है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज