लाइव टीवी

कोटा: अपराधियों से सांठगांठ, CI और ASI बर्खास्त, 1 पुलिसकर्मी का डिमोशन, ये हैं कारनामे
Kota News in Hindi

Shakir Ali | News18 Rajasthan
Updated: January 30, 2020, 2:57 PM IST
कोटा: अपराधियों से सांठगांठ, CI और ASI बर्खास्त, 1 पुलिसकर्मी का डिमोशन, ये हैं कारनामे
सीआई जोधाराम के गैगंस्टर रणवीर चौधरी के साथ गोवा में पार्टी करते हुए फोटो वायरल हुए थे.

अपराधियों (Criminals) से गठजोड़ के कारण सुर्खियों में आए कोटा के पुलिसकर्मियों (Policemen) के खिलाफ आखिरकार पुलिस मुख्यालय (PHQ) ने कड़ा कदम उठा ही लिया है. पुलिस निरीक्षक जोधाराम गुर्जर (CI Jodharam Gurjar) और सहायक पुलिस उप निरीक्षक सूर्यवीर सिंह (ASI Suryavir Singh) को पुलिस सेवा से बर्खास्त (Dismissed) कर दिया गया है.

  • Share this:
कोटा. अपराधियों (Criminals) से गठजोड़ के कारण सुर्खियों में आए कोटा के पुलिसकर्मियों (Policemen) के खिलाफ आखिरकार पुलिस मुख्यालय (PHQ) ने कड़ा कदम उठा ही लिया है. पुलिस महानिदेशक भूपेन्द्र सिंह यादव (DGP Bhupendra Singh Yadav) ने पुलिस निरीक्षक जोधाराम गुर्जर (CI Jodharam Gurjar) और सहायक पुलिस उप निरीक्षक सूर्यवीर सिंह (ASI Suryavir Singh) को पुलिस सेवा से बर्खास्त (Dismissed) कर दिया गया है. इसके साथ ही गेलेंट्री प्रमोशन से एएसआई बने अजीत मोगा (ASI Ajeet Moga) को डिमोशन कर उन्हें वापस हैड कांस्टेबल बना दिया गया है.

सीआई जोधाराम गुर्जर के कारनामे
जोधाराम गुर्जर का अपराधियों से गठजोड़ शुरू से ही रहा है. 23 अगस्त, 2014 में कोटा ग्रामीण के मोडक थाने के प्रभारी रहते हुए उसने डोडा पोस्ट से भरे ट्रक को निकालने की एवज में 5 लाख की रिश्वत की मांगी थी. इस पर एसीबी ने कार्रवाई करते हुए जोधाराम के दलाल को धरदबोचा था, लेकिन वह खुद फरार हो गया था. इस प्रकरण के बाद जोधाराम 4 साल सस्पेंड रहा था. उसके बाद जिस दिन जोधाराम की बहाली हुई उसी दिन उसकी गैगंस्टर रणवीर चौधरी के साथ गोवा में पार्टी करते हुए फोटो वायरल हो गई. अपराधियों से साठगांठ का खुलासा होते ही उसी शाम जोधाराम को फिर से निलंबित कर उदयपुर लाइन से झुंझुनूं भेजने के आदेश जारी किए गए थे.

एएसआई सूर्यवीर सिंह की कहानी



एएसआई सूर्यवीर सिंह पर पहले बूंदी जिले के तालेड़ा में फर्जी कागजात के आधार पर जमीन बेचने का मुकादमा दर्ज हुआ था. उसमें वो सस्पेंड होकर जेल भी जा चुका था. इसके अलावा भी कई विवादित जमीनों में पुलिस की धौंस दिखाकर सौदे करवाने में भी उसकी भूमिका सामने आ चुकी थी. ताजा ममाला गैगंस्टर रणवीर चौधरी की हत्या के दिन अपराधियों के साथ पार्टी करते वायरल तस्वीरों का था. उसके बाद इस मामले में डीआईजी रविदत्त गौड ने सर्यूवीर समेत 5 पुलिसकर्मियो को सस्पेंड कर दिया था.

अपराधियों से सांठगांठ रखने वाला CI और ASI बर्खास्त, 1 ASI का डिमोशन, तीनों के ये हैं कारनामे Rajasthan police department Dismissed a CI and ASI from due to reletionship of criminals
एएसआई सूर्यवीर सिंह.


अजीत मोगा दो बार गैलेंट्री प्रमोशन लेकर एएसआई बना
अजीत मोगा दो बार गैलेंट्री प्रमोशन लेकर एएसआई पद तक पहुंचा था. लेकिन बीते दिनों अपराधियों के साथ अजीत मोगा की भी तस्वीरें सोशल मीडिया पर जब वायरल हुई तो उसके खिलाफ भी विभाग ने कड़ा एक्शन लिया. उसका डिमोशन करके वापस हैड कांस्टेबल बना दिया गया है. कोटा ग्रामीण पुलिस की साइबर सेल का पूर्व प्रभारी अजीत मोगा 2017 में एएसआई बना था.

एएसपी गोपाल सिंह कानावत ने की थी पूरे प्रकरण की जांच
एएसपी गोपाल सिंह कानावत ने इस पूरे प्रकरण की जांच में पाया कि तीनों के बदमाशों से संबध रहे हैं. उनकी रिपोर्ट के बाद डीजीपी ने अब यह एक्शन लेकर पुलिस महकमे को बड़ा संदेश दिया कि अगर कोई भी पुलिसकर्मी अपराधियों से सांठगांठ रखेगा तो उसे उसकी सजा जरूर मिलेगी.

 

सिरोही : नवनिर्वाचित सरपंच ने कुर्सी पर काल भैरव को बिठाया, खुद दरी पर बैठेंगे

 

कोरोना वायरस का आतंक: चीन से आया एक और संदिग्ध यात्री SMS अस्पताल में भर्ती

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कोटा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 30, 2020, 2:47 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर