Kota News: बेसहारा पशुओं की सहारा बनीं रिटायर्ड मेजर प्रमिला सिंह पीएम मोदी ने सराहा

मेजर प्रमिला सिंह बताती हैं कि पिता श्यामवीर सिंह पिछले 33 बरसों से स्ट्रीट डॉग्स को बच्चों की तरह संभाल रहे हैं.

Kota Good News: पीएम नरेन्द्र मोदी ने कोटा निवासी भारतीय सेना की रिटायर्ड मेजर प्रमिला सिंह को पत्र भेजकर उनके द्वारा बेसहारा जानवरों की सहायता के लिए किए जा रहे कार्यों की तारीफ की है. वे अपने पिता के साथ कोरोना काल में स्ट्रीट डॉग्स की सेवा में जुटी रही थीं.

  • Share this:
कोटा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजस्थान की कोटा निवासी एवं भारतीय सेना से मेजर के पद से सेवानिवृत्त हुईं प्रमिला सिंह को उनके दयाभाव और सेवाकार्य के लिए पत्र लिखकर सराहा है. कोरोना काल के लॉकडाउन जब लोग अपने-अपने घरों में राशन पानी की व्यवस्था में जुटे थे, उस समय मेजर प्रमिला सिंह अपने पिता श्यामवीर सिंह राठौड़ के साथ मिलकर बेजुबान और बेसहारा जानवरों की सेवा में जुटी थी. मेजर प्रमिला और उनके पिता ने अपनी जमा पूंजी से सड़कों पर आवारा घूम रहे जानवरों के खान-पान और उपचार की व्यवस्था की थी.

प्रधानमंत्री मोदी ने मेजर प्रमिला राठौड़ के प्रयास को समाज के लिए प्रेरणास्त्रोत बताया है. प्रधानमंत्री ने लिखा है कि पिछले लगभग डेढ़ वर्षों में हमने अभूतपूर्व परिस्थितियों का सामना मजबूती से किया है. यह एक ऐसा ऐतिहासिक कालखंड है जिसे लोग जीवनभर नहीं भूल सकेंगे. यह न केवल इंसानों के लिए बल्कि मानव के सान्निध्य में रहने वाले अनेक जीवों के लिए भी कठिन दौर है. ऐसे में आपका बेसहारा जानवरों के दु:ख-दर्द व जरूरतों के प्रति संवेदनशील होना और उनके कल्याण के लिए व्यक्तिगत स्तर पर पूरी सामर्थ्य से कार्य करना सराहनीय हैं.

मोदी ने कहा कि ऐसी कई मिसालें देखने को मिली हैं
इसके साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने पत्र में कहा कि इस मुश्किल समय में कई ऐसी मिसालें देखने को मिली हैं जिन्होंने हमें मानवता पर गर्व करने का अवसर दिया है. पीएम मोदी ने उम्मीद जताई कि मेजर प्रमिला और उनके पिताजी इसी तरह अपनी पहल से समाज में जागरुकता फैलाते हुए अपने कार्यों से लोगों को निरंतर प्रेरित करते रहेंगे. इससे पहले मेजर प्रमिला सिंह ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर बताया था कि जानवरों की देखभाल करने का जो काम उन्होंने लॉकडाउन के समय शुरू किया था वह आज तक जारी है. उन्होंने पत्र में असहाय जानवरों की पीड़ा व्यक्त करते हुए समाज के ज्यादा से ज्यादा लोगों को इनकी मदद के लिए आगे आने की अपील की थी.

लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने भी दी बधाई
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने भी मेजर प्रमिला राठौड़ से फोन पर बात की उनको बधाई दी. बिरला ने प्रमिला से कहा कि उनकी सेवा भावना प्रेरणादायी है. बेसहारा जीवों की जरूरतें पूरी करने का वे प्रशंसनीय कार्य कर रही हैं. बिरला ने संसदीय क्षेत्र की बेटी को प्रोत्साहित करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भी आभार जताया है.

अब असम में बिल्लियों की देखभाल में जुटी हैं
रिटायर्ड मेजर प्रमिला सिंह वर्तमान में अपने परिवार के साथ असम के तेजपुर जिले में रह रही हैं. असम में बिल्लियां बड़ी संख्या में हैं. वे वहां बिल्लियों की देखभाल में जुटी हैं. बीमार बिल्लियों के खाने से लेकर इलाज तक की व्यवस्थाएं वे कर रही हैं. इसके साथ ही आसपास वेटरनरी अस्पतालों में डॉक्टर्स को लाने के प्रयास कर रही हैं. मेजर प्रमिला सिंह साल 2019 तक आर्मी में थीं. उनके पति का व्यापार है. उनका 7 साल का बेटा भी मेजर प्रमिला के साथ इस सेवा कार्य में जुटा रहता है. मेजर प्रमिला के पिता कोटा के श्रीनाथपुरम इलाके में रहते हैं. वे जलदाय विभाग के वरिष्ठ अधिकारी के पद से सेवानिवृत्त हुए हैं.

पिता से मिला सेवा का जज्बा
मेजर प्रमिला सिंह बताती हैं कि पिता पिछले 33 बरसों से स्ट्रीट डॉग्स को बच्चों की तरह संभाल रहे हैं. जहां भी उनको घायल जानवर नजर आता है उसके इलाज के लिए वे प्रयास करते हैं. अपनी गाड़ी में हमेशा खाने का सामान रखते हैं. प्रमिला बताती हैं कि वे 3 महीने कोरोना काल के दौरान कोटा में रही. उस दौर में जब लोग घरों में कैद थे तब भी उनके पिता ने जिला प्रशासन से अनुमति लेकर जानवरों के लिए खाना उपलब्ध करवाया. कई घायल जानवरों का इलाज करवाया. वे अपनी आय में से 90% राशि जानवरों के लिए ही खर्च करते हैं. पीएम मोदी द्वारा भेजे गए प्रशंसा-पत्र को देखकर वो काफी खुश हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.