Home /News /rajasthan /

3 साल से माता-पिता के शव की तलाश में भटक रहा एक फौजी, जानें क्या है मामला

3 साल से माता-पिता के शव की तलाश में भटक रहा एक फौजी, जानें क्या है मामला

मामले की दोबारा जांच की मांग की जा रही है.

मामले की दोबारा जांच की मांग की जा रही है.

सोमवार को प्रदेशभर में खटीक समाज ने जिला कलेक्टर्स (District Collector) को ज्ञापन सौंप कर सैनिक के माता-पिता के शवों की बरामदगी के लिए नए सिरे जांच करवाने की मांग की है.

कोटा. करीब 24 सालों से देश की सीमा पर रक्षा में जुटे कोटा के सूबेदार विजय बडगुजर के माता-पिता की हत्या (Murder) को तीन साल हो गए हैं. इसके बावजूद पुलिस अभी तक सैनिक के माता-पिता के शवों को अभी तक बरामद नहीं कर पाई है. मामला बून्दी जिले के लाखेरी थाना इलाके का है. दरअसल, साल 2018 में कोटा निवासी हजारीलाल ओर उनकी पत्नी कैलाशी बाई का पहले कोटा से अपहरण (Kidnap) हुआ ओर फिर बदमाशों ने उनकी जंगल में हत्या कर मौके से फरार गए थे. पुलिस ने हत्या की गुत्थी तो सुलझाते हुए पति पत्नी सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया था. मौके पर मृतकों के खून से सने कपड़े तो पुलिस को मिल गए थे, लेकिन उनके शवों को पुलिस आज तक तलाश नहीं कर पाई है.

अब सैनिक बेटा बीते तीन साल से पिछली सरकार, गृहमंत्री से लेकर सीएम तक गुहार लगा चुका है, लेकिन उसके माता-पिता का शव अब तक पुलिस बरामद नहीं कर पाई है. सैनिक की गुहार अब आंदोलन का रूप ले रही है. सोमवार को प्रदेशभर में खटीक समाज ने जिला कलेक्टर्स को ज्ञापन सौंप कर सैनिक के माता-पिता के शवों की बरामदगी के लिए नए सिरे जांच करवाने की मांग की है.

सोशल मीडिया पर सैनिक के साथ जुड़ रहे लोग

सूबेदार विजय बडगुर्जर खुद अपने माता-पिता की मौत के बाद टूट गया है. अब सिर्फ उनकी यही गुहार है कि वो अपने माता-पिता का अंमित संस्कार करके अपने पुत्र होने का फर्ज निभा सके, लेकिन उनकी यह कौशिश भी अब तक नाकाम रही है क्योंकि अभी तक काफी तलाश अभियान चलाने के बाद भी मृतकों के शवों की तलाश पूरी नहीं हो सकी है. अब वाट्सएप ग्रुप पर खटीक समाज के साथ देशभर के समाज के बंधू इस आंदोलन से जुड़ गए हैं. राज्य और केन्द्र सरकार से मांग की जा रही है कि सैनिक के माता-पिता के शवों को तलाशा जाए और आरापियों से दोबारा पूछताछ की जाए. सूबेदार संघर्ष समिति के नाम से वाट्सएप ग्रुप पर समाज केबुद्धिजीवियों के साथ युवा और राजनीति से जुड़े लोग भी सैनिक के साथ आकर खड़े हो रहे हैं.

Tags: Crime in Rajasthan, Kota news, Kota News Update, Murder, Rajasthan latest news, Rajasthan News Update, Rajasthan police

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर