Assembly Banner 2021

Rajasthan: यात्रीगण कृपया ध्यान दें, कोटा में रेलवे स्टेशन के बाहर सक्रिय है शातिर चोर गिरोह

अब पुलिस अब इस गिरोह के सरगना मुरादाबाद निवासी तौफीक अहमद की तलाश में जुटी हुई है.

अब पुलिस अब इस गिरोह के सरगना मुरादाबाद निवासी तौफीक अहमद की तलाश में जुटी हुई है.

Alert: कोचिंग सिटी कोटा (Kota) आने वाले यात्री सतर्क रहें. यहां रेलवे स्टेशन के बाद शातिर चोर गैंग (Thief gang) सक्रिय है. यह यात्रियों के बैग में चीरा लगाकर सामान पार कर लेता है. पुलिस ने गैंग के दो बदमाशों को पकड़ा है.

  • Share this:
कोटा. कोचिंग सिटी कोटा (Kota) की भीमगंज मंडी थाना पुलिस ने रेलवे स्टेशन के बाहर यात्रियों के बैग में कट लगाकर चोरी की वारदात को अंजाम देने वाले गिरोह (Thief gang) के दो लोगों को गिरफ्तार किया है. पकड़े गये दोनों आरोपी मूलत उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के रहने वाले हैं. इनके गिरोह के लोग कोटा रेलवे स्टेशन के बाहर यात्रियों पर नजर रखकर उनके बैग में कट लगाकर कीमती सामान पर हाथ साफ करके रफूचक्कर हो जाते हैं.

भीमगंज मंडी थानाधिकारी हर्षराज खरेड़ा ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस के हत्थे चढ़े बाबू अहमद और अशरफ अली दोनों आरोपी उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद और बिजनौर जिले के रहने वाले हैं. महिला 12 फरवरी को भरतपुर से जनशताब्दी एक्सप्रेस से कोटा पहुंची थी. उसने अपने मामा के घर जाने के लिए कोटा स्टेशन के बाहर से ऑटो रिक्शा किया था. कुछ देर बाद उस ऑटो में 3 लोग और सवार हो गये. इसमें से दो व्यक्ति ऑटो में जहां लगेज रखा था वहां बैठ गये. फिर खेड़ली फाटक क्षेत्र में ऑटो रुकवाकर उतर गये. महिला जब छावनी स्थित अपने मामा के घर पहुंची तो उसने कटे हुए बैग को देखा तो उसके होश उड़ गये.

एटीएम कार्ड से 20000 रुपये भी निकाल लिये
शातिर बदमाश बैग में कट लगाकर सोने के आभूषण, 30 हजार नकदी और एडीएम कार्ड सहित अन्य सामान चोरी कर ले गये. उसकी शिकायत पर पुलिस ने स्टेशन के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले और संदिग्धों से पूछताछ की. बाद में जांच-पड़ताल कर बाबू खान और अशरफ अली को गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ में दोनों आरोपियों ने महिला के बैग से सामान चोरी करने की बात को स्वीकार लिया है. उन्होंने महिला के एटीएम से 20000 रुपये भी निकालना कबूला है. अब पुलिस अब इस गिरोह के सरगना मुरादाबाद निवासी तौफीक अहमद की तलाश में जुटी हुई है.
खाली बोतले बेचने के बहाने देते थे वारदात को अंजाम


पकड़े गए आरोपी बाबू खान और अशरफ अली कुन्हाड़ी के बापू नगर में पिछले 1 महीने से किराए के मकान में रहते थे. वे हर रोज सुबह स्टेशन के बाहर खाली बोतलें बेचने के नाम पर यात्रियों पर नजर रखते थे. फिर यात्रियों के ऑटो रिक्शा में बैठने पर उसी रिक्शा में बैठकर बीच रास्ते में चोरी की वारदात को अंजाम देकर उतर जाया करते थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज