Rajasthan Weather Update: कोटा में मानसून की पहली जोरदार बारिश, 1 इंच पानी गिरा

कोटा में शाम के वक्त हुई बारिश से शहरवासियों को तेज गर्मी और उमस से एकबारगी राहत मिल गई है.

Rain in Kota : कोटा संभाग में मानसून (Monsoon) की पहली बारिश ने लोगों का तन और मन भिगो दिया है. कोटा में 1 इंच से ज्यादा हुई बारिश से नाले-परनाले बह निकले. कोचिंग सिटी में इस दौरान चली तेज हवाओं से कई पेड़ गिर गए.

  • Share this:
कोटा. कोटा संभाग में जून महीने के आखिरी दिन मानसून (Monsoon) ने जोरदार दस्तक दी है. कोचिंग सिटी कोटा में बुधवार को देर शाम को घनघोर बादलों की घटाए छाई और करीब पौन घंटे तक बादल (Rain) झूमकर बरसे. मौसम विभाग के आंकड़ों के मुताबिक इस पौन घंटे में 29.4 एमएम बारिश दर्ज की गई. कोटा मुख्यालय पर मानसून की पहली बारिश में 1 इंच से ज्यादा पानी गिरा. बारिश ने जहां शहरवासियों को गर्मी से राहत दिलवाई, वहीं किसानों की खरीफ फसल को लेकर उमीदों के पंख भी लगा दिए. बारिश के साथ इलाके में 9 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चली.

इस दौरान कोटा शहर के अंदर कई स्थानों पर पेड़ धराशाही हो गए, तो परकोटा इलाके में पेड़ के नीचे एक गाय दब गई. कोटा शहर में शाम के वक्त हुई बारिश से शहरवासियों को तेज गर्मी और उमस से एकबारगी राहत मिल गई है. तेज बारिश के कारण शहर के निचले इलाकों में जलभराव की समस्या एक बार फिर सामने आई. नालें उफान पर रहे. सड़कों के किनारे खाली स्थानों पर बरसात का पानी जमा हो गया. कोटा शहर के साथ ही ग्रामीण इलाकों में भी कई स्थानों पर तेज बारिश हुई है.

बारां और बूंदी में भी हुई बारिश
कोटा संभाग के बूंदी जिले के तालेडा-केशवरायपाटन कस्बों के बीच स्थित छपाउदा गांव के पास राजस्थान विद्युत प्रसारण निगम की 132 केवी हाईटेंशन लाइन का पोल खेतों में जा गिरा. बारां शहर में कुछ देर के लिए हल्की बारिश हुई. बूंदी जिले के कई ग्रामीण इलाकों में बादलों की गर्जाना के साथ बारिश हुई है. हाड़ौती के झालावाड में भी बुधवार को बादल छाए रहे.

किसानों के चेहरे खिले
मानसून की इस पहली बारिश से किसानों को खरीफ सीजन की फसलों की बुवाई करने को लेकर बड़ी उम्मीद जगी है. हाड़ौती अंचल में करीब 11 लाख हैक्टेयर में खेती होती है. अब तक बारिश नहीं होने से किसानों के चेहरे पर चिंता की लकीरें नजर आ रही थी, लेकिन बुधवार को हुई बरसात ने उन लकीरों को धो दिया है. अब किसान बुवाई की तैयारियों में जुट गये हैं. अब किसान जुलाई माह में भी अच्छी बारिश के होने की उम्मीद कर रहे हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.