अपना शहर चुनें

States

हर क्षेत्र की अग्रिम पंक्ति में महिलाएं नेतृत्व दे रही हैं: ओम बिरला

उन्होंने कहा कि आज भारत आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ रहा है. इसमें महिलाओं की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण है. (फाइल फोटो)
उन्होंने कहा कि आज भारत आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ रहा है. इसमें महिलाओं की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण है. (फाइल फोटो)

ओम बिरला (Om Birla) ने कहा कि वह चाहे देश की सीमाएं हो या फिर तकनीक, विज्ञान, शोध, चिकित्सा या परमार्थ का क्षेत्र आज हर जगह महिलाओं का दबदबा है.

  • Share this:
कोटा. लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला (Om Birla) ने कहा कि जमाना तेजी से बदल रहा है. वह दिन बीत चुके हैं जब महिलाओं को समानता देने की बात की जाती थी. अब महिलाएं (Women) हर क्षेत्र की अग्रिम पंक्ति में नेतृत्व दे रही हैं. वे शुक्रवार को जेसीआई कोटा किंग्स व राजस्थान पुलिस कि महिला सशक्तिकरण अभियान (Women Empowerment Campaign) "आवाज" कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे. बिरला ने कहा कि एक महिला के व्यक्तित्व में आपको सभी गुण दिखाई देंगे. उसमें करुणा है, ममता है, दया है तो मुश्किलों को फतह करने का एक दृढ़ संकल्प भी है. यही कारण है कि आजादी से पूर्व हमारे देश की महिलाओं ने स्वतंत्रता संग्राम में न सिर्फ बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया, बल्कि कुर्बानी भी दी. आज भी महिलाओं को देश सेवा के क्षेत्र में बढ़-चढ़कर योगदान देते हुए देखा जा सकता है.

बिरला ने कहा कि वह चाहे देश की सीमाएं हो या फिर तकनीक, विज्ञान, शोध, चिकित्सा या परमार्थ का क्षेत्र आज हर जगह महिलाओं का दबदबा है. ऐसे में हमारा भी दायित्व बनता है कि हम हर उस बेटी को आगे लाने का प्रयास करें जो हमारी थोड़ी सी सहायता से समाज के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान देकर भारत का नाम विश्व में रोशन कर सकती है. इससे पूर्व कार्यक्रम की ब्रांड एम्बेसडर अंजली बिरला ने कहा कि मां दुर्गा के नौ स्वरूपों से प्रेरणा लेकर प्रोजेक्ट की शुरुआत की गयी है. निश्चित तौर पर यह प्रयास महिलाओं को सशक्त बनाने के साथ महिलाओं को समाज के प्रति महती योगदान देने में समर्थ बनाएगा.

कोटा किंग्स के अध्यक्ष विशाल जोशी तथा सचिव ने भी संबोधित किया
उन्होंने कहा कि आज भारत आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ रहा है. इसमें महिलाओं की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण है. उन्होंने महिलाओं की सामाजिक सुरक्षा व  सशक्तिकरण की दिशा में जिला प्रशासन और सामाजिक संस्थाओं के संयुक्त प्रयास की सराहना करते हुए कहा कि वे इस अभियान से जुड़कर खुद को गौरवान्वित महसूस कर रही हैं. इससे पूर्व कार्यक्रम की जानकारी देते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रवीण जैन ने कहा कि इस अभियान का प्रयास है कि हम महिलाओं को सुरक्षित माहौल उपलब्ध कराने के साथ-साथ उनको अपनी आत्मरक्षा के लिए भी तैयार कर सकें. इस कार्य में सामाजिक संस्थाएं पुलिस का सहयोग कर रही हैं जो कि सामाजिक दायित्वों की पूर्ति की दिशा में एक सराहनीय योगदान है. कार्यक्रम को जेसीआई कोटा किंग्स के अध्यक्ष विशाल जोशी तथा सचिव ने भी संबोधित किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज