Assembly Banner 2021

Kota News: अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर महिलाओं ने कोरोना वैक्सीनेशन का बनाया रेकॉर्ड

कोरोना वैक्सीनेशन के प्रति जनजागृति लाने के लिये शहर में 16 डिस्पेंसरी में एक अभियान के तहत लोगों को जोड़ा जायेगा.

कोरोना वैक्सीनेशन के प्रति जनजागृति लाने के लिये शहर में 16 डिस्पेंसरी में एक अभियान के तहत लोगों को जोड़ा जायेगा.

Corona vaccination: कोटा में महिलाओं ने अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women's Day) के मौके पर बड़ी संख्या में टीकाकरण करवाकर न केवल रिकॉर्ड बनाया है, बल्कि मातृशक्ति में आत्मविश्वास का अनुकरणीय उदाहरण पेश किया है.

  • Share this:
कोटा. कोचिंग सिटी कोटा (Kota) में सोमवार का पूरा दिन महिलाओं के नाम रहा. अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women's Day) पर विभिन्न संस्थाओं ने अपने अपने तरीके से इसे मनाया. इस मौके पर शहर की 50 महिलाओं ने सिर्फ़ तीन घंटे में टीके (Corona vaccination) लगवाकर मातृशक्ति में आत्मविश्वास का अनुकरणीय उदाहरण पेश किया.

शिविर संयोजक एवं लायंस क्लब के जोन चेयरमैन भुवनेश गुप्ता ने बताया कि कोटा में यह दूसरा शिविर तलवंडी की डिस्पेंसरी में जिला प्रशासन के स्वास्थ्य एवं चिकित्सा विभाग के सहयोग से लगाया गया था. तलवंडी के सेक्टर चार की विकास समिति, पोरवाल वरिष्ठ युवा फोरम, लायंस क्लब कोटा टेक्नो, इंजीनियरिंग कॉलेज वेलफेयर ट्रस्ट, टीम जीवनदाता और इंडियन बिल्डिंग कांग्रेस के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित किया गया था. महिला दिवस के उपलक्ष्य में इस राष्ट्रव्यापी कार्यक्रम को रफ़्तार देने के लिए 124 वृद्वजनों ने इसका लाभ उठाया. इसमें पचास महिलाएं शामिल थी.

सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़ने की ज़रूरत
पोरवाल वरिष्ठ युवा फोरम के अध्यक्ष रविन्द्र कुमार गुप्ता और सचिव रघुवर दयाल गुप्ता ने कहा कि कोरोना ने हर परिवार को प्रभावित किया है. इसका डटकर मुकाबला करना होगा. लायंस क्लब के पूर्व प्रान्तपाल बद्री विशाल माहेश्वरी ने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई के लिए अब सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़ने की आवश्यकता है. उन्होंने कोरोना बीमारी का डर छोड़कर और टीका लगवाकर आत्मविश्वास जगाने की जरूरत पर बल दिया.
कोटा की 16 डिस्पेंसरी में होंगे मेगा कैम्प


भुवनेश गुप्ता ने कहा कि कोटा में टीकाकरण की रफ्तार में तेजी लाने की जरुरत है. इसमें सरकारी एजंसी के साथ साथ स्वयंसेवी संस्थाओं को आगे आना पड़ेगा. उन्होंने बताया कि जनजागृति के लिए शहर में 16 डिस्पेंसरी में एक अभियान के तहत लोगों को जोड़ा जाएगा. अप्रैल के अंत तक संस्था ने एक लाख लोगों तक पहुंचने की कार्य योजना तैयार की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज