Rajasthan Politics: सीएम अशोक गहलोत का ट्वीट- सत्‍य की ही जीत होगी, सत्‍यमेव जयते
Jaipur News in Hindi

Rajasthan Politics: सीएम अशोक गहलोत का ट्वीट- सत्‍य की ही जीत होगी, सत्‍यमेव जयते
सीएम अशोक गहलोत

राजनीतिक बयानबाजी के बीच विधानसभा सत्र की कार्यवाही सुबह 11 बजे शुरू हो गयी. इस दौरान अशोक गहलोत सरकार की ओर से विश्‍वास प्रस्‍ताव लाने की संभावना है. दूसरी तरफ, BJP भी कार्यवाही शुरू होते ही अविश्‍वास प्रस्‍ताव ला सकती है

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 14, 2020, 11:51 AM IST
  • Share this:
जयपुर. राजनीतिक घमासान के बीच राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने ट्वीट के जरिये बड़ा संकेत देने की कोशिश की है. उन्‍होंने लिखा, 'राजस्‍थान विधानसभा का सत्र आज से शुरू हो रहा है. अब राजस्‍‍थान की जनता और कांग्रेस विधायकों की एकता की जीत होगी. सत्‍य की ही जीत होगी. सत्‍यमेव जयते!'

माना जा रहा है कि आज ही विधानसभा में विश्वास मत प्रस्ताव (Motion of confidence) लाया जा सकता है. कार्यवाही शुरू होते ही विधानसभा स्पीकर विश्वास मत प्रस्ताव और अविश्वास प्रस्ताव पर व्यवस्था दे सकते हैं. सदन में विश्वास मत पर बहस के बाद फ्लोर टेस्ट (Floor Test) हो सकता है.


हालांकि, विधानसभा सत्र की कार्यसूची में विश्वास प्रस्ताव को सूचीबद्ध नहीं किया गया. सदन में कल 8 अध्यादेश और कोरोना की स्थिति पर चर्चा की जाएगी. वहीं अधिकारियों ने बताया कि विधानसभा सत्र को लेकर सारी तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं. इसमें कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए बरती जाने वाली सावधानियों को ध्‍यान में रखते हुए विधानसभा में पुख्‍ता व्‍यवस्‍थाएं की गई हैं. इस बार विधानसभा सत्र के दौरान दर्शक, विशिष्‍ट और अध्‍यक्ष दीर्घा के लिए प्रवेश पत्र नहीं बनाए जाएंगे.



आज से शुरू होगा विधानसभा का विशेष सत्र
उल्लेखनीय है कि राजस्थान में आज से विधानसभा सत्र शुरू हो रहा है. इसमें बीजेपी गहलोत सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी. बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि सरकार कई मुद्दों पर जूझ रही है. उनके विश्वास प्रस्ताव लाने की उम्मीद है. लेकिन हम भी अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए तैयार हैं. नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि पार्टी ने पूरी तैयारी कर रखी है. उन्होंने कहा कि सरकार एक महीने से बाड़े में बंद है. प्रदेश में केंद्र सरकार की योजनाओं की अनदेखी की जा रही है. ये सरकार विरोधाभास की सरकार है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज