Lockdown 2.0: श्रमिक स्पेशल ट्रेन 1200 श्रमिकों को लेकर जयपुर से पटना के लिए हुई रवाना
Jaipur News in Hindi

Lockdown 2.0: श्रमिक स्पेशल ट्रेन 1200 श्रमिकों को लेकर जयपुर से पटना के लिए हुई रवाना
देश भर में कुल 6 स्पेशल श्रमिक रेलों का किया गया संचालन. (फाइल फोटो)

लॉकडाउन (Lockdown) के बीच, विभिन्‍न राज्यों में फंसे इन मजदूरों को निकालने के लिए राज्य सरकार और केंद्र सरकार पिछले 20 दिनों से जद्दोजहद कर रही थीं.

  • Share this:
जयपुर. लंबे लॉकडाउन (Lockdown) और लंबी जद्दोजहद के बाद आखिरकार मजदूरों के लिए राज्य सरकार और केंद्र सरकार ने मिलकर एक सराहनीय पहल की है. राज्य के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत की कोशिशें आखिरकार रंग लाई और नार्थ वेस्‍ट रेलवे से पहली ट्रेन मजदूरों को लेकर पटना के लिए रवाना हो गई. सीएम गहलोत लंबे समय से केंद्र सरकार से मजदूरों को निकालने की अपील कर रहे थे.

उल्‍लेखनीय है कि देश भर में आज 5 रेलों का संचालन किया गया. मकसद था देश के अलग अलग हिस्सों में फंसे मजदूरों और छात्रों को उनके राज्‍य और अपने घर में पहुंचाना. दूसरे राज्यों में फंसे इन मजदूरों को निकालने की अटकलें और कवायद राज्य सरकार और केंद्र सरकार पिछले 20 दिनों से कर रही थी. अब रणनीति बनाकर इन्हें इनके घर पहुंचाया जा रहा है. देश भर के अलग रेलवे जोन के तहत कुल 6 रेलों के संचालन किया गया, जिसमे उत्‍तर पूर्वी रेलवे  के हिस्से में जयपुर से पटना की ट्रेन आई है.

लंबे इंतजार के बाद जयपुर से पटना के लिए रवाना हुई ट्रेन
जयपुर से कोटा जाने वाली ट्रेन अपने तय समय रात 10 बजे रवाना हो गई, लेकिन जयपुर से पटना जाने वाली ट्रेन को घंटो इंतज़ार करना पड़ा. रेल निकलने का तय समय 10 बजे था, लेकिन नागौर से मजदूरों के रेलवे स्टेशन पहुंचने का सिलसिला रात 12 बजे तक चलता रहा और उसके बाद रेल को पटना के लिए रवाना किया गया. नागौर से 1200 मजदूर सरकारी बसों में जयपुर जंक्शन लाए गए. रेलवे स्टेशन पहुंचने के बाद उनकी स्क्रीनिंग की गई उसके बाद उन्हे बोगी में बिठाया गया. ये सभी वो मजदूर थे, जिन्‍होंने सरकार की हेल्पलाइन नंबर पर अपना रजिस्ट्रेशन करवाया था. बसों को सेनेटाइज किया और उसके बाद सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखते हुए मजदूरों को बसों में बिठाया गया.
भारतीय रेलवे ने इन 6 ट्रेनों का किया था संचालन


भारतीय रेलवे ने जिन 6 ट्रेनों का संचालन किया है, उसमें लिंगमपल्ली से हतिया, अलुवा से भुवनेश्वरन, नासिक से लखनऊ, नासिक से भोपाल, जयपुर से पटना और कोटा से हतिया शामिल है. फिलहाल, देश में लॉकडाउन कुछ हिदायते देकर 2 सप्ताह के लिए और बढ़ा दिया गया है. हालांकि श्रमिकों के लिए अच्छी खबर ये है कि अब सरकारें उनकी सुध ले रही है और उनके घऱ जाने का सिलसिला शुरू हुआ है. हालांकि मजदूरों की तादाद लाखों में है, इसलिए रोज़ रेल चलाई जाएगी, तभी वो अपने घर पहुंच पाएंगे. फिलहाल 1200 मजदूरों का काफिला रवाना हुआ है और आगे ये सिलसिला कितने दिनों तक चलता है ये देखने वाली बात होगी.

(इनपुट: आसिफ खान)

 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज