अपने संसदीय क्षेत्र में पहुंचे लोकसभा अध्यक्ष, इन योजनाओं को लेकर किया मंथन
Kota News in Hindi

अपने संसदीय क्षेत्र में पहुंचे लोकसभा अध्यक्ष, इन योजनाओं को लेकर किया मंथन
ओम बिरला (Om Birla) ने मंगलवार को कहा कि होली के बाद चर्चा होगी.

लोकसभा स्पीकर ओम बिरला (Om Birla) ने कोटा रेलमंडल (Kota Rail Division) के अधिकारियों के साथ अहम बैठक कर कोटा-बून्दी में रेल विकास और अन्‍य सुविधाओं को लेकर चर्चा की है.

  • Share this:
कोटा. लोकसभा स्पीकर ओम बिरला (Om Birla) ने अपने दो दिवसीय दौरे के दौरान कोटा रेलमंडल (Kota Rail Division) के अधिकारियों के साथ अहम बैठक कर कोटा-बून्दी में रेल विकास, विस्तार और अन्‍य सुविधाओंं में इजाफे को लेकर चर्चा की. यही नहीं, इस दौरान उन्‍होंने कोटा-बून्दी में चल रहे रेलवे प्रोजेक्ट्स की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को इसे जल्‍दी पूरा करने के निर्देश दिए हैं, ताकि जनता इसका फायदा उठा सके. इस दौरान बैठक में ओम बिरला ने कोटा रेलवे स्टेशन के विकास के साथ ट्रेनों के ठहराव और कोटा के डकनिया रेलवे स्टेशन को विकसित करने के प्रोजेक्‍ट को तेजी से आगे बढ़ाने के निर्देश भी दिए.

विधायकों की बात पर लिया ये एक्‍शन
ओम बिरना ने रेलमंत्री और कोटा रेलमंडल के अधिकारियों की बैठक में लिए गए निर्णयों की अनुपालना के बारे में भी चर्चा की. आपको बता दें कि 6 दिसंबर 2019 को दिल्ली में रेल मंत्री और कोटा मंडल के अधिकारियों की बैठक हुई थी, जिसमें कई निर्णय लिए गए थे. इसके अलावा विधायकों द्वारा उठाई गई रेल समस्‍यों को लेकर भी अधिकारियों से बातचीत की और उनके निस्तारण के निर्देश दिए. डीआरएम पंकज कुमार कार्यालय के बोर्ड रूम में हुई इस बैठक रेलवे अधिकारी रामगंज, मंडी विधायक मदन दिलावर, कोटा दक्षिण के विधायक संदीप शर्मा, केशवराय पाटन विधायक चंद्रकांता मेघवाल और लाडपुरा विधायक कल्पना देवी आदि मौजूद रहे.

कोटा मंडल में हैं 100 रेलवे स्टेशन
यही नहीं, कोटा के डकनिया स्टेशन का विस्तार के अलावा सोगरिया स्टेशन से ट्रेनों के संचालन की संभावनाओ पर भी चर्चा की गई, ताकि नये कोटा के लोगों को रेल सुविधा का फायदा मिल सके. इस दौरान कोटा जंक्शन पर बजट होटल का निर्माण और पिछले 2 साल से अटकी स्टेशन पुनर्विकास योजना को आगे बढ़ाने के बारे में भी मंथन किया गया.


आपको बता दें कि कोटा मंडल में 100 रेलवे स्टेशन हैं और हर रोज 142 यात्री ट्रेनें यहां होकर गुजरती हैं. जबकि रोजाना कोटा जंक्शन पर 40 से 45 हजार यात्रियों का आना जाना होता है.

 

ये भी पढ़ें-

वसुंधरा राजे पर मेहरबान हुई गहलोत सरकार, अब खाली नहीं करना होगा बंगला

 

पंचायत आम चुनाव-2020: सरपंच पद के लिए चुनावी मैदान में हैं 15,334 प्रत्याशी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading