Assembly Banner 2021

नागौर जिले में बढ़ा डेंगू प्रकोप, चिकित्सा विभाग में मचा हड़कंप

फोटो-(ईटीवी)

फोटो-(ईटीवी)

नागौर जिले में डेंगू का प्रकोप लगातार बढ़ रहा है. बीते 15 दिन में डेंगू के आठ मरीज सामने आए हैं. इन मरीजों के एलाइजा टेस्ट में डेंगू की पुष्टि हुई है.

  • Share this:
नागौर जिले में डेंगू का प्रकोप लगातार बढ़ रहा है. बीते 15 दिन में डेंगू के आठ मरीज सामने आए हैं. इन मरीजों के एलाइजा टेस्ट में डेंगू की पुष्टि हुई है.

वहीं जनवरी से लेकर अब तक एलाइजा टेस्ट में 17 मरीजों को डेंगू होने की पुष्टि हो चुकी है. पिछले आठ महीनों में 9 मरीज सामने आए, लेकिन केवल 15 दिन में आठ मरीजों में डेंगू होने की पुष्टि होने से चिकित्सा विभाग में हड़कंप मच गया है.

इस तरह कार्ड की जांच में 200 मरीजों में डेंगू पाया गया. एलाइजा टेस्ट व कार्ड जांच को मिलाकर देखें तो जनवरी से अब तक 17 मरीज सामने आए हैं. नागौर के जेएलएन अस्पताल के मेडिकल वार्ड में तो बैड भी कम पड़ने लगे हैं.



रोजाना की ओपीडी 800 से 1000 तक पहुंच गई. भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ी है, इस कारण महिला व पुरुषों के मेडिकल वार्डों मे अतिरिक्त बैड की व्यवस्था करनी पड़ी है.
जिले में
डेंगू फैलने पर कलेक्टर कुमारपाल गौतम की फटकार के बाद चिकित्सा विभाग चेता है. डेंगू के बढ़ते आंकड़ों को कम करने के लिए सीएमएचओ सुकुमार कश्यप ने सभी बीसीएमएचओ को निर्देश दिए हैं कि डेंगू से रोकथाम के लिए कारगर उपाय किए जाएं.

नागौर के जेएलएन अस्पताल में भर्ती डेंगू के मरीजों को मोहल्लों में फोगिंग करने और किसी अन्य को डेंगू नहीं फैले, इसके उपायों पर भी चर्चा की गई. वहीं लगातार मिल रही शिकायतों के चलते रविवार को कई मोहल्लों में फोगिंग की जा रही है.

नागौर शहर के नया दरवाजा क्षेत्र में चिकित्सा विभाग की टीम ने महामारी विशेषज्ञ साकिर खान के निर्देशन में फोगिंग की है. वहीं जिन क्षेत्रों में डेंगू के मरीज मिले हैं, उन इलाकों में चिकित्सा विभाग की टीम भेजने और जरुरत पड़ने पर चिकित्सा कैंप लगाने पर भी मंथन किया जा रहा है.

नागौर शहर के अलावा थांवलां व रियांबड़ी मे डेंगू का प्रकोप ज्यादा देखने को मिला है. इन क्षेत्रों के मरीज अजमेर जा रहे हैं. डेंगू के प्रकोप को देखते हुए जिलेभर के ब्लॉक सीएमएचओ को भी डेंगू की रोकथाम के लिए कारगर उपाय करने के निर्देश दिए गए हैं.
जिला कलेक्टर से पड़ी फटकार के बाद हरकत में आई नगर परिषद व नगरपालिका क्षेत्रों में विभिन्न वार्डों में सफाई व्यवस्था के बाद नालियों के किनारे कीटनाशक पाउडर डाला जा रहा है. नालियों में फिनाइल का छिड़काव किया जा रहा है. वहीं लोगों को घरों के आगे एकत्रित निर्माण सामग्री पाई जाने पर हटाने और मच्छर उत्पति आदि स्थानों के बारे में जानकारी देकर जागरुक किया जा रहा है.

नगर परिषद आयुक्त श्रवणराम चौधरी ने कर्मचारियों को निर्देश दिए कि शहर में डेंगू के प्रकोप को देखते हुए हरिजन बस्ती, मेघवाल बस्ती, खोडों का मोहल्ला में सफाई व्यवस्था बनाएं रखें, कीटनाशकों का प्रयोग लगातार किया जाएं और फोगिंग की कार्रवाई लगातार जारी रखें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज