लाइव टीवी

नागौर: मानव तस्करी गिरोह का भंडाफोड़, पुलिस ने 3 लोगों को गिरफ्तार कर नाबालिग को मुक्त करवाया

Mahendra Bishnoi | News18 Rajasthan
Updated: October 5, 2019, 9:30 AM IST
नागौर: मानव तस्करी गिरोह का भंडाफोड़, पुलिस ने 3 लोगों को गिरफ्तार कर नाबालिग को मुक्त करवाया
मानव तस्करी के आरोप में नागौर पुलिस ने 3 आरोपियों को किया गिरफ्तार

नागौर जिले में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए मानव तस्करी करने के आरोप में एक महिला सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया. कार्रवाई के दौरान पुलिस ने आरोपियों के चंगुल से एक नाबालिग लड़की को भी मुक्त कराया.

  • Share this:
नागौर. राजस्थान के नागौर (Nagaur)  जिले में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए मानव तस्करी (Human Trafficking) करने के आरोप में एक महिला सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया. कार्रवाई के दौरान पुलिस ने आरोपियों के चंगुल से एक नाबालिग लड़की (Minor Girl) को भी मुक्त कराया. पुलिस आरोपियों से पूछताछ में जुटी है. पुलिस (Nagaur Police) का कहना है कि आरोपियों से पूछताछ के दौरान कई बड़े खुलासे होने की भी उम्मीद है.

मजदूरी कराने के बहाने लाए थे नागौर

पुलिस के अनुसार बीते दिनों पंजाब की एक महिला ने नागौर में अपनी नाबालिग बेटी को बेचने की शिकायत दर्ज कराई थी. शिकायत में बताया गया था कि पंजाब से मंजीत कौर, राजू एवं सतनाम सिंह ने मजदूरी के बहाने उसकी लड़की को नागौर लेकर आए, जहां उन्होंने उसे हुड़ीया इलाके में बेच दिया. शिकायत के बाद एसपी विकास पाठक ने मानव तस्करी विरोधी टीम के साथ किशोरपुरा गांव में कार्रवाई की. कार्रवाई के दौरान पुलिस को नाबालिग लड़की वहां मिल गई. पुलिस टीम ने नाबालिग से पूछताछ की तो उसने बताया कि एक महीने पहले उसे और दो अन्य लड़कियों को उनके पड़ोसी मंजीत कौर, सतनामसिहं व राजू गंगानगर उन्हें नागौर में मजदूरी के लिए लाए थे.

नाबालिग लड़की को 70 हजार रुपए में बेचा था

मामले मे यह भी खुलासा हुआ कि तीनों आरोपियों ने हुड़ीया निवासी गिगाराम जाट के घर पर उन तीनों लड़कियों को बंधक बनाकर रखा था. नाबालिग लड़की ने बताया कि तीनों आरोपियों ने उसे जस्साराम को 70 हजार रुपए में बेच दिया था और उसकी जबरदस्ती शादी भी करवा दी थी. पीड़िता ने बताया कि करीब 20-25 दिनों तक जस्साराम उसके साथ जबरदस्ती बलात्कार (Rape) करता रहा. मानव तस्करी विरोधी प्रकोष्ठ (Anti-trafficking cell) ने पीड़िता के बयान के आधार पर आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया. वहीं पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल भी करवा दिया है.

पुलिस ने सभी आरोपियों को किया गिरफ्तार

पुलिस ने बलात्कार करने वाले आरोपी जस्साराम जाट व मानव तस्करी के धंधे में लिप्त गिगाराम जाट को गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने बताया कि गिगाराम गच्छीपुरा थाने का हिस्ट्रीशीटर है, जिसके खिलाफ करीब एक दर्जन प्रकरण दर्ज हैं. इसके बाद गच्छीपुरा थाने के एएसआई अयूब खान व महिला कांस्टेबल संतोष ने पंजाब के कोटकपुरा से मंजीत कौर को गिरफ्तार (arrest) किया गया.
Loading...

अन्तर्राज्यीय मानव तस्करी गिरोह से जुड़े हुए हैं आरोपी

पुलिस ने बताया कि मंजीत कौर अन्तर्राज्यीय मानव तस्करी गिरोह से जुड़ी हुई है, जो पंजाब (Punjab), हरियाणा (Haryana) व अन्य राज्यों से गरीब तबके की लड़कियों को काम-धंधे का झांसा देकर खरीद-फरोख्त का कार्य करती है. मंजीत हिस्ट्रीशीटर गिगाराम से काफी समय से सम्पर्क में है और काफी समय से लड़कियां खरीदने, बेचने और शादी करवाने का कार्य करते हैं. पुलिस ने बताया कि लड़कियों की खरीद फरोख्त करने, उन्हें शरण व सहयोग देने तथा जबरदस्ती शादी कराने वाले अन्य आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा.

यह भी पढ़ें- नशे के 6 सौदागरों को 10-10 साल की कैद, 1-1 लाख रुपए लगाया जुर्माना

यह भी पढ़ें- चूरू में 10वीं की छात्रा का चाकू की नोक पर अपहरण, होटल में ले जाकर किया रेप

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नागौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 5, 2019, 9:30 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...